dard bhari Dosti shayari

Dard Bhari Dosti shayari | Hindi Shayari | New Dosti Sad Shayari 2021

Dard Bhari Dosti Shayari : सबसे बेस्ट जिंदगी शानदार खूबसूरत “दोस्ती शायरी दोस्त के लिए दोस्त को खुश करने के लिए शायरी हिंदी में लिखा हुआ, हमारी सच्ची दोस्ती पर शायरी खास दोस्तों के लिए शायरी लाये है।
हमें अपने दोस्त की तारीफ के लिए जब शब्द नहीं मिलते हैं तो शायरी दोस्ती की तारीफ हमें मदद करती हैं। दोस्ती को लेकर हर इंसान का अपना एक अलग नजरिया होता है। जिंदगी में इस रिश्ते से हर कोई रूबरू होता है। हर कोई दोस्त बनाता है और अटूट दोस्ती शायरी की मदद से खूबसूरत बनाता हैं।

मैंने सोचा कि आज में आपके साथ Dard Bhari Dosti Shayari शेयर किया जाए इसलिए में आपके लिए Dard Dard Dosti Shayari लेकर आया हु। आप इन स्टेटस और को अपने Dost के साथ wahtsapp & Facebook पर जरूर शेयर करना |

dard bhari dosti ki shayari

1
जो तुम्हे ख़ुशी में याद आये तो
समझो तुम उससे मोहब्बत करते हो
और जो तुमको गम में याद आये तो
समझो वो तुमसे मोहब्बत करता है

2
ज़िन्दगी नहीं हमें दोस्तों से प्यारी,
दोस्तों के लिए हाजिर है जान हमारी,
आँखों में हमारी आँसू है तो क्या,
खुदा से भी प्यारी हैं मुस्कान तुम्हारी

3
वो मुझे चाहे मिल ही जाऐ जरूरी तो नहीं,
ये कुछ कम है कि बसा है मेरी साँसो में,
वो सामने हो मेरी आँखो के जरूरी तो नहीं

4
क्या नशा है इश्क आज तक समझ ना पाये हम,
उन नशीली आँखों में कहीं हो ना जाऐं गुम,
युँ तो इश्क समझ नहीं आता ना जाने क्या बला थी ये,
कि जुदा होने पे उनकी ये आँखे हो गई है नम

5
ज़िन्दगी के सारे गम क्यों बाट लेते हैं दोस्त।
क्यों ज़िन्दगी में साथ देते हैं दोस्त।
रिश्ता तो सिर्फ उनसे दिल से होता हैं। जी।
फिर भी क्यों हमें अपना मान लेते हैं दोस्त

dard bhari dosti ki shayari

6
आकाश के तारों में खो गया है एक तारा।
लगता हैं प्यार उन तारो में एक सितारा।
जो दोस्त इस समय पढ़ रहा है Messages हमारा।

7
ये दिन यू ही गुजर जायेगे।
हम दोस्त एक दिन बिछर जायेगें।
आप नाराज़ ना होना मेरी शरारत से।
एक दिन ये पल याद आयेंगे।

8
संगीत की जरूरत हर महफ़िल में होती है,
मोहब्बत की जरूरत हर एक दिल में होती है,
बिना दोस्तों के है अधूरा है यह जीवन,
क्योंकि उनकी जरूरत हर एक पल में होती है।

9
दोस्त साथ हो तो रोने में भी शान है,
दोस्त ना हो तो महफिल भी शमशान है

10
लोग कहते हैं ज़मीं पर किसी को खुदा नहीं मिलता,
शायद उन लोगों को दोस्त कोई तुम-सा नहीं मिलता।

11
तेरी दोस्ती को पलकों पर सजाऐगें,
जब तक ज़िन्दगी हैं साथ निभायेगें,
देने को तो कुछ नहीं हमारे पास,
पर तेरी खुशी माँगने खुदा के
पास जरूर जायेगें,

dard bhari shayari dosti ke liye

12
एक रात खुदा ने मेरे दिल से पुछा,
तू दोस्ती में इतना क्यों खोया हैं,
दिल बोला दोस्तों ने ही दि हैं सारी खुशियाँ,
वरना प्यार करके तो दिल हमेसा रोया हैं

13
दोस्त का प्यार दुआ से कम नहीं होता,
दोस्त दुर हो फिर भी कोई गम नहीं होता,
प्यार में अक्सर कम हो जाती हैं दोस्ती,
पर दोस्ती में प्यार कभी कम नहीं होता

14
कहते हैं दिल पे भरोसा इतना नहीं करते,
हम कहते हैं महोब्बत में सोचा नहीं करते,
वो कहते हैं नज़रों से दूर पर दिल के पास हुँ,
हमने कहा सपनो से दिल को बहलाया नहीं करते

Related :- Love Shayari

15
ना जाने क्यों वो हमसे मुस्कुरा के मिलते हैं,
अन्दर के सारे गम छुपा के मिलते हैं,
जानते हैं आँखे सच बोल जाती हैं,
शायद इसी लिए वो नज़र झुका के मिलतें हैं

16
हम ने कहाँ ये बारिश जरा थम के बरस।
जब मेरे दोस्त आ जाए तो जम के बरस।
पहले ना बरस कि वो आ ना सके।
उसके आने के बाद इतना बरस कि वो जा ना सके।

17
ज़िन्दगी रहे या ना रहे दोस्ती रहेंगी।
पास रहो या दुर रहो यादे रहेंगी।
अपनी जिंदगी में हमेसा हसँते रहना।
कयोंकि तेरी हँसी में एक मुस्कान मेरी भी रहेगी।

18
हर खुशी दिल के करीब नहीं होती,
ग़मों से जिन्दगी दूर नहीं होती,
ऐ मेरे दोस्त दोस्ती संजो कर रखना,
हर किसी को दोस्ती नसीब नहीं होती।

19
न जाने कुछ दिन बाद कैसा माहौल होगा,
हम सब दोस्तों में से कौन कहाँ होगा,
फिर अगर मिलना होगा तो मिलेंगे सपने मे,
जैसे सूखे गुलाब मिलते है पुरानी किताबों मे।

सच्ची दोस्ती शायरी

20
अच्छा और सच्चा दोस्त एक फूल है,
जिसे हम तोड़ भी नही सकते,
और अकेला छोड़ भी नही सकते,
अगर तोड़ लिया तो मुरझा जायेगा,
और छोड़ दिया तो कोई और ले जायेगा

21
पत्थर तो हजारों ने मारे थे मुझे,
लेकिन जो दिल पे लगा आ
कर इस दोस्त ने मारा हैं,

22
एक चाहत होती हैं दोस्तों के
साथ जीने की जनाब,
वरना पता तो हमें भी है कि
मरना अकेले ही है,

23
दोस्ती आम है लेकिन ऐ दोस्त,
दोस्त मिलता है बड़ा मुश्किल से,

24
दोस्ती किस से न थी किस से मुझे प्यार ना था,
जब बुड़े वक़्त पे देखा तो कोई याद ना था,

25
ऐ तुम्हारी दोस्ती पर नाज़ करता हूँ,
मिलने की तुमसे हर समय खुदा से
फ़रियाद करता हूँ,
मुझे नहीं पता घरवाले कहते हैं,
कि मैं नींद में भी तुमसे बात करता हूँ,

26
दोस्ती एक अफ़साना है,
अपनाया तो अपना हैं,
भूल गया तो सपना हैं,

27
इस से पहले की बेवफा हो जाए,
क्यों न ये दोस्त हम जुदा हो जाए,

Sad Dosti Shayari

28
अच्छा दोस्त एक फूल कि तरह होता है,
जिसे हम छोर भी नहीं सकते और तौर
भी नहीं सकते,
तोड़ दिया तो मुरझा जाएगा और,
छोड़ दिया तो कोई और ले जाएगा,

29
ऐ दोस्त हम ने तर्क- मुहब्बत के बावजूद,
महसूस कि है तेरी जरुरत कभी कभी,

30
ये दोस्ती चिराग है जलाऐ रखना
ये दोस्ती खुशबु है महकाऐ रखना,
हम रहें हमेशां आपके दिल में,
हमेशां इतनी जगह बनाऐ रखना

31
ताज़ी हवा में फूलो कि महक हो।
पहली किरन में चिड़ियो कि चहक हो।
जब भी आप अपनी पल्खे खोलो।
उन पलखो में खुशियो कि छलक हो

32
रात में जब आपकी याद आती हैं।
सितारो में आपकी तस्वीर नज़र आती हैं।
खोजती हैं आँखें उन चेहरे को।
जिनकी याद में सुबह हो जाती है।

33
ज़िन्दगी आपकी फूलो कि तरह मुस्कुराये।
गम की हवा आपको छु भी ना पाए।
यू तो लाख आये मौसम पतझर के।
आपकी खुशी का एक फूल भी ना मुरझाये।

34
उगता हुआ सूरज रोशनी दे आपको।
खिला हुआ फूल खुशबू दे आपको।
हम तो खुशी देने के काबिल नहीं।
देने वाला हजार करोड़ खुशिया दे आपको।

35
खुशबू में भी एहसास होता हैं।
प्यार का रिश्ता खास होता है।
हर बार जुबा से कहना मुम्किन नहीं।
इस लिए दोस्ती का दुसरा नाम विसवास होता है।

सबसे दर्द भरी शायरी

36
वो दिल क्या जो मिलने की दुआ ना करे,
तुम्हें भूल कर जियू़ ये खुदा ना करे,
रहे तेरी दोस्ती जिंदगी बन कर,
ये बात और हैं ज़िन्दगी वफा़ ना करे,

37
अपनी दोस्ती का शुक्रिया कुछ इस कदर करे हम,
अगर तुम भूल भी जाओ तो भी हर पल याद करे हम,
खुदा ने सिखाया हैं बस इतना ही,
कि खुद से पहले तुम्हारे लिए दुआ करे हम,

38
आपकी दोस्ती की एक नज़र जाहीए,
दिल हैं बेघर उसे एक घर चाहिए,
बस यूँ ही साथ चलते रहो ऐ दोस्त,
यही दोस्ती हमें उम्र भर चाहिए,

39
मंजिल मिलने से दोस्ती भुलाई नहीं जाती,
हमसफ़र मिलने से दोस्ती मिटाई नहीं जाती,
दोस्ती की कमी हर पल रहता है यार,
दुरियों से दोस्ती छुपाई नहीं जाती,

40
आँखो से आंसू क्यों छलक जाते हैं।
तन्हाईयों में गम क्यों याद आते हैं।
आँसू पोछ कर कोई ये बता दे हमसे।
दुर रहने वाले अक्सर क्यों याद आते हैं।

41
अपनी तो यही पहचान है,
हंसता चेहरा शराबी आंखें
नवाबी शान और, दोस्तों के लिए जान!

42
ए दोस्त हम हमेशा तुम्हे दिल से याद किया करते हैं,
रहो हमेशा सलामत तुम बस यही ख़ुदा से फ़रियाद किया करते हैं।

43
ना तुम दूर जाना ना हम दूर जायेंगे,
अपने-अपने हिस्से की दोस्ती निभाएंगे।

Sad Shayari dosti ke liye

44
दिए तो आंधी में भी जला करते हैं,
गुलाब तो काँटों में ही खिला करते हैं,
खुशनसीब बहुत होती है वो शाम,
जिसमे दोस्त आप जैसे मिला करते हैं।

45
दोस्ती में दोस्त, दोस्त का ख़ुदा होता है,
महसूस तब होता है जब वो जुदा होता है।

46
एक जैसे दोस्त सारे नही होते,
कुछ हमारे होकर भी हमारे नहीं होते,
आपसे दोस्ती करने के बाद महसूस हुआ,
कौन कहता है तारे जमीन पर’ नहीं होते

47
अगर आपकी पलखो पे ख्याल रख जाये कोई।
अगर आपकी सासो पे नाम लिख जाये कोई।
इस लिए ये वादा करो भुलोगे नहीं हमें।
अगर हमसे भी प्यारा दोस्त मिल जाए कभी।

48
कोई कहता हैं दोस्ती नशा बन जाती हैं।
कोई कहता हैं दोस्ती सजा बन जाती हैं।
पर हम कहते हैं आपसे।
दोस्ती अगर सच्चे दिल से करो।
तो दोस्ती ही जिने कि वजह बन जाती हैं।

49
कभी रात में तारे गिन को देखना।
जितने तुम गिन पाये उतना तुम हमको याद करते हो।
ओर जितने तारे बच जाए उतना हम तुमको याद करते हैं।

50
काश दिल की आवाज़ में इतना असर हो जाए।
की हम जैसे याद करे असको खबर हो जाए।
रब से यही दुआ हैं हमारी।
कि जिसे आप चाहे वो आपका हमसफर हो जाए।

51
मुरझाये फूल को खुशबु देना कोई आप से सीखे।
रुठे हुऐ को मनाना कोई आप से सिखे।
दोस्त बनाना तो हर कोई जानता है।
दोस्ती निभाना कोई आप से सिखे।

dard bhari dosti shayari in hindi

52
दोस्त के लिए दोस्ती की सौगात होगी।
नये लोग होगे नई बात होगी।
हम हर हाल में मुस्कराते रहेंगे।
अपनी दोस्ती यूँही साथ होगी।

53
तेरा रिश्ता इस तरह निभायेगें।
तुम रोज खफा होना हम रोज मनायेगें।
पर मनाने से मान जाना।
वरना ये भिगी पलखे लेके हम कहाँ जायेगें।

54
दोस्ती तो झोका हैं हवा का।
दोस्ती तो एक नाम है व़फा का
ओरो के लिए कुछ भी हो जाए
मेरे लिए दोस्त हसीन तोफा हैं खुदा का।

55
दोस्ती एक रिश्ता हैं जो निभाए वो फरिश्ता हैं।
दोस्ती सच्ची प्रीत हैं जुदाई जिसकी रित हैं।
जुदा होके भी ना भुले यही दोस्ती की जित है।

56
राते गुमनाम होती हैं।
दिन किसी के नाम होता है।
हम ज़िन्दगी कुछ इस तरह से जिते हैं।
कि हर लम्हा सिर्फ दोस्त के नाम होता है।

57
दोस्ती वो नही जो मिट जाये,
रास्तो की तरह कट जाये,
दोस्ती तो वो प्यारा एहसास है,
जिसमे सब कुछ पल भर में ही सिमट जाये।

58
दोस्ती का शुक्रिया कुछ इस तरह अदा करूँ,
आप भूल भी जाओ तो मैं हर पल याद करूँ,
खुदा ने बस इतना सिखाया हैं मुझे,
कि खुद से पहले आपके लिए दुआ करूँ।

59
मंजिलों से अपनी दूर ना जाना..
रास्ते की परेशानियों से टूट ना जाना..
जब भी जरूरत हो जिन्दगी में किसी अपने की..
हम अपने हैं ये भूल ना जाना

dosti ki dard bhari shayari in hindi

60
तेरे गम को अपनी रूह में उतार लूँ..
जिन्दगी तेरी चाहत में सवार लूँ..
मुलाकात हो तुझ से कुछ इस तरह..
तमाम उमर बस इक मुलाकात में गुजार लूँ

61
सितारों के बगैर आसमान में क्या रखा है,
बिन तेरी जाने में रखा क्या है,
लगता हैं सब कुछ अधूरा सा,
दोस्ती के बगैर दुनिया में रखा क्या है,

62
आपकी हमारी दोस्ती सुरों का साज हैं,
आप जैसे दोस्त पर हमें नाज़ हैं,
अब चाहे कुछ भी हो जाए ज़िन्दगी में,
दोस्ती वैसे ही रहेगी जैसे आज है,

63
कुछ तो बात है तेरी फ़ितरत में ऐ दोस्त,
तुझे याद करने की खता हम बार बार ना करते,

64
कुछ लोग कहते हैं कि दोस्ती बराबर
वालों से करनी चाहिए,
लेकिन हम कहते हैं दोस्ती में कोई
बराबरी नहीं करनी चाहिए,

65
हर नमी में तेरी कमी तो रहेंगी।
आँखें कुछ नम तो रहेंगी।
ज़िन्दगी को हम कितना भी सवारें।
हमेशा आप जैसे दोस्त कि कमी तो होगी।

66
तारों पे अकेले चाद जगमागाता हैं।
मुश्किलों में अकेले इंसान डगमगाता हैं।
काटो से मत खबराना मेरे दोस्त।
कयोंकि काटो में भी गुलाब मुस्कराता हैं।

67
दिए तो आंधी में भी जला करते हैं,
गुलाब तो काँटों में ही खिला करते हैं,
खुशनसीब बहुत होती है वो शाम,
जिसमे दोस्त आप जैसे मिला करते हैं।

Dosti ke Dard bhare status

68
ज़िन्दगी नहीं हमे दोस्तों से प्यारी,
दोस्तों के लिए हाजिर है जान हमारी,
आँखों में हमारी आँसू है तो क्या,
खुदा से भी प्यारी है मुस्कान तुम्हारी।

69
एक चाहत होती है दोस्तों के साथ जीने की जनाब,
वरना पता तो हमें भी है की मरना अकेले ही है।

70
और कभी तुझे ना भूलने का इरादा करते हैं,
मेरा रब मेरी नहीं किसी और की तो सुन ही लेगा ना,
ये सोच कर हर इक से तेरे लिए दुआ करवाया करते हैं

71
गुनाह करके सजा से डरते हैं,
ज़हर पीकर दवा से डरते हैं,
दुश्मनों के सितम का खैफ नहीं हमें
हम दोस्तों के खफा होने से डरते हैं,

72
खीच कर उतार देते हैं उम्र कि चादर,
ये कमबख़्त दोस्त कभी बुढ़ा नहीं होने देते,

73
सच्चे दोस्त हमें कभी गिरने नहीं देते,
न किसी के नजरों में न किसी के कदमों में,

74
आदतें अलग है मेरी दुनिया वालो से,
दोस्त कम रखता हूँ पर लाजवाब रखता हूँ,

76
प्यार से कहो तो आसमान माग लो।
रुठ कर कहो तो मुस्कान माग लो।
तमन्ना यही है कि दोस्ती मत तोरना।
फिर चाहे हंसकर हमारी जान माग लो।

dosti ki dard bhari shayari in hindi

77
ज़िन्दगी गुजर जाए पर दोस्ती कम ना हो।
याद हमे रखना चाहे पास हम ना हो।
कयामत तक चलता रहे ये प्यारा सा सफर।
दुआ करो कि कभी ये रिश्ता खत्म ना हो।

78
उपर वाले ने दौलत भले ही कम दी हो,
लेकिन दोस्त सारे दिलदार दिये हैं,

79
दोस्त वो नहीं जो जान देती हैं,
दोस्ती वो भी नहीं जो मुस्कान देती हैं,
अरे अच्छी दोस्ती तो वो है,
जो पानी में गिरा हुआ आंसू पहचान लेती है,

80
दोस्त हैं मेरा बहारों जैसा,
दिल हैं उसका दिलदारों जैसा,
बहुत दोस्त नहीं रखते हम मगर,
मेरा एक ही दोस्त हैं हजारों जैसा,

81
वक्त के लम्हे परिंदे बन के उड़ जाएंगे।
पर यादो के निशान छोड़ जाएंगे।
दोस्त बन कर हम दोस्ती निभायेगें।
पर आपके जैसा दोस्त कहाँ से पायेगे।

82
एक प्यारी सी सुबह बोली उठ के देख क्या नज़ारा है।
मैने कहाँ रुक पहले Messages भेजने दे उसको जो
इस सुबह से भी प्यारा हैं मेरा पागल दोस्त।

83
देखी जो नब्ज मेरी तो हँस कर बोला हकीम,
तेरे मर्ज़ का इलाज महफिल हैं तेरे दोस्तों की,

84
हम वक्त गुजारने के लिए दोस्तों को नहीं रखते,
दोस्तों के साथ रहने के लिए वक्त रखते हैं,

Dard Bhari Shayari for best friend

85
कभी किसी को जजबातों का मजाक ना बनाना,
ना जाने कौन सा दर्द लेकर कोई जी रहा हैं,

86
गीत की जरुरत महफिल में होती हैं,
प्यार की जरूरत हर दिल में होती हैं,
बिना दोस्त के अधूरी हैं जिंदगी,
कयोंकि दोस्त कि जरुरत हर पल में होती हैं,

87
करनी है खुदा से गुज़ारिश,
तेरी दोस्ती के सिवा कोई बंदगी ना मिले,
हर जनम में मिले दोस्त तेरे जैसा,
या फिर कभी जिंदगी ना मिले,

88
ज़िक्र हुआ जब खुदा की रहमत का,
हमने खुद को खुशनसीब पाया,
तमनना भी एक प्यारे से दोस्त की,
खुदा खुद दोस्त बन के चला आया,

89
तुम बनके दोस्त ऐसे आए जिंदगी में,
के हम ये जमाना ही भूल गये,
तुम्हें याद आए ना आए हमारी कभी,
पर हम तो तुम्हें भूलना ही भूल गये,

90
अच्छा और सच्चा दोस्त एक फूल हैं।।
जिसे हम तोर भी नहीं सकते।
और अकेला छोर भी नहीं सकते।
अगर तौर लिया तो मुरझा जाएगा।
और छोर दिया तो कोई और ले जाएगा।

91
दिल से निकली बात दिल को छू जाती हैं।
ये अक्सर अनोखी बात रह जाती हैं।
कुछ लोग दोस्ती के मायने बदल देते हैं।
पर किसी कि दोस्ती से दुनियां बदल जाती हैं।

92
समुन्दर ना हो तो कश्ती किस काम की,
मजाक ना हो तो मस्ती किस काम की,
दोस्तों के लिए तो कुर्बान हैं ये ज़िन्दगी,
अगर दोस्त ही ना हो तो फिर ज़िन्दगी किस काम की,

Dard bhari dosti Shayari 140

93
लगे ना नज़र इस रिश्ते को जमाने की,
पड़े ना जरुरत कभी एक दूसरे को मनाने की,
आप ना छोड़ना मेरे साथ वरना,
तमन्ना ना रहेगी फिर दोस्त बनाने की,

94
लोग पुछते हैं इतने गम में भी
खुश कैसे हो,
मैने कहाँ दुनिया साथ दे या ना
दे मेरा दोस्त मेरे साथ है,

95
दावे दोस्ती के मुझे नहीं आते यारो,
एक जान हैं जब दिल चाहें माग लेना,

96
दोस्ती में ना कोई वार ना कोई दिन होता है,
ये तो वो एहसास हैं जिसमे बस यार होता है,

97
शुक्रिया ऐ दोस्त मेरी ज़िन्दगी में आने के लिए,
हर लम्हे को इतना खूबसूरत बनाने के लिए,
तू है तो हर ख़ुशी पर मेरा नाम लिख गया है,
शुक्रिया मुझे इतना खुशनसीब बनाने के लिए।

98
मुस्कुराना तो तकदीर में लिखवा कर आये थे,
खिलखिलाना आप जैसे अपनों ने तोहफे में दे दिया।

99
उड़ जाएंगे तस्वीर से रंगों की तरह हम,
वक्त कि टहनी पर है परिंदों की तरह हम,

100
जरुरी नहीं हर रिश्ते को मोहब्बत का नाम दिया जाए
कुछ रिश्तो के जज्बात मोहब्बत से भीबढ़कर होते हैं

Related Post

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *