Dard e ishq Shayari

Dard e ishq Shayari in Hindi | shayari on ishq For Boys 2021 | इश्क़ शायरी

Dard e ishq Shayari – दोस्तों आज हम आपके लिए लाये हैं एक से बढ़ कर एक ishq भरी शायरी ये सिर्फ और सिर्फ आपके लिए है | कई बार Girlfriend को प्यार के लिए शायरी जरुरी बन जाता है चाहे वो Boyfriend हो या Girlfriend और इसी ताइम दिल बहुत बचैन होता हैं | तो दोस्तों इस पोस्ट मे दिल को छू लेनी वाली शायरी हैं | जब आपको किसी कि बहुत ishq लाली शायरी के जरिया बयाँ अपना प्यार अपने चाहने वाले को बता सकते हैं कि हम आपको बहुत याद करते हैं | और हाँ अगर आपको अगर ये शायरी पसंद आये तो अपने दोस्तों मे जरूर भेजना इससे आपके दोस्त भी आपको कभी भेज सकता है अगर आप उसे अगर आप उसे बहुत ज्यादा प्यार करते हैं तो चलिये अब शायरी भि देख ले बहुत शारी शायरी हैं |






 

बात करनी थी बात कैन करे,
दर्द से दो दो हाथ कोन करे,
हम सितारे तुम्हें बुलाते है,
चाँद ना हो तो रात कोन करे,

Bat Karni Thi Bat Kyain Kre,
Dard Se Do Do Hath Kon Kre,
Ham Sitare Tumhe Bulate Hai,
Chand Na Ho To Rat Kon Kre,


•••••• dard e ishq shayari ••••••


कोन से लफ्ज में मैं दर्द कि सदा लिखूं
किस तरह मै अपने ही दिल को बेवफ़ा लिखूं

Kon Se Lafhj Me My Dard Ki Sda Likhu,
Kis Tarah My Apne Hi Dil Ko Webfha Likhu,


 


किन लफ़्जों में बयाँ करु दर्द ए दिल को मैं,
सुनने वाले Dard e ishq Shayariतो बहुत हैं समझने वाला कोई नहीं,

Kin Lafhjo Me Bya Kru Dard Ye Dil Ko My,
Sunne Wale To Bahut Hai Samjhne Wala Koei Nhi,


Ishq Shayari in Hindi


किस्मत के तराज़ू में तो फकिर हैं,
हम और दर्द दे दिल में हम सा कोई नहीं,

Kismat Ke Traju Me To Fhakir Hai,
Ham Our Dard De Dil Me Ham Sa Koei Nhi,


•••••• dard e ishq shayari ••••••


तेरे हिसाब से अब और दिखा ना जाएगा,
जख्म अब नासूर बन गए हैं ज़िन्दगी में,
मुझसे अब दर्द ए दिल और लिखा ना जाएगा,

Tere Hisab Se Ab Our Dikha Na Jayega,
Jakhm Ab Nasur Ban Gye Hai Jiandgi Me,
Mujhse Ab Dard y Dil Our Likha Na Jayga,


 


लिखु क्या आज वक्त का तकाजा है,
दर्द ए दिल अभी ताजा हैं,

Likhu Kya Aaj Wakt Ka Ka Tkaja Hai,
Dard Y Dil Abhi Taja Hai,


 


दर्द ए दिल को ताब आ जाए,
जिसमें तुम हो काश कही से वो ख्वाब आ जाए,

Dard Y Dil Ko Tab Aa Jaye,
Jisme Tum Ho Kas Kahi Se Wo Khwab Aa Jaye,


 


ना समझ तो वो ना थे ना इतने,
के प्यार को हमारे समझ ना सके,
पेश किया दर्द ए दिल हमने नगमो में,
उसे भी वो भी सिर्फ शेर समझ बैठे,

Na Samjh To Wo Na The Na Eatne,
Ke Payar Ko Hamare Samjh Na Ske,
Pes Kiya Dard Ye Dil Hamne Nagme Me,
Use Bhi Wo Bhi Shirf Ser Samjh Baitha,


Mera Ishq Shayari


मुझे दर्द ए दिल का पता न था,
मुझे आप किस लिए मिल गए,
मैं अकेले यूँ ही मजे में था,
मुझे आप किस लिए मिल गए,

Mujhe Dard Y Dil Ka Pta Na Tha,
Mujhe Aap Kis Liye Mil Gye,
My Akele Yu Hi Maje Me Tha,
Mujhe Aap Kis Liye Mil Gye,


•••••• dard e ishq shayari ••••••


अभी से क्यों छलक आये तुम्हारे आँख में आँसू,
अभी तो छोड़ी ही कहाँ हे दर्द ए दिल का दास्तान हमने,

Abhi Se Kyo Chalk Aaye Tumhare Aakh Me Aasu,
Abhi Ti Chori Hi Kaha Hai Dard Ye Dil Ka Dastan Hamne,


 


उस शहर में जिन्दा रहने का सजा काट रहा हूँ,
जहाँ ज्जबातो कि कोई कदर ही नहीं,

Uas Sahar Me Jianda Rahne Ka,
Sja Kat Rha Hu,
Jaha Jajbato Ki Koei Kadae Hi Nhi,


 


जहर कि चुटकी ही मिल जाए बजाए दर्द ए दिल,
कुछ ना कुछ तो चाहिए बाबा दवा ए दर्द ए दिल,
रात को आराम से हूँ मैं न दिन को चैन से,
हाए ऐ वहशते दिल हाए हाए दर्द ए दिल,

Jahar Ki Chutki Hi Mil Jaye Bajay Dard Ye Dil,
Kuch Na Kuch To Chahiye Baba Dwa Ye Dard Ye Dil,
Rat Ko Aaram Se Hu My Na Din Ko Chain Se,
Haye Ye Wahste Dil Hay Hay Dard Ye Dil,


Dard e ishq Status


वो मुझ तक आने की राह चाहता है,
लेकिन मेरी मोहब्बत का गवाह चाहता है,
खुद आते जाते मौसम कि तरह है,
और मेरे इश्क़ का इन्तहा चाहता है,

Wo Mujh Tak Aane Ki Rah Chahta Hai,
Lekin Meri Mohbbt Ka Gawah Chahta Hai,
Khud Aate Jaye Musam Ki Tarah Hai,
Our Mere Iashk Ka Eantha Chahta Hai,


•••••• dard e ishq shayari ••••••


दिल की हसरत मेरी जुबान पे आने लगी,
तुने देखा और ये ज़िन्दगी मुस्कुराने लगी,
ये इश्क़ का तनहा थी या दीवानगी मेरी,
हर जगह पे सुरत तेरी आने लगी,

Dil Ki Hasrat Meri Juban Pe Aane Lagi,
Tune Sekha Our Ye Jiandgi Muskurane Lgi,
Ye ishq Ka Tanha Thi Ya Diwangi Meri,
Har Jagah Pe Surat Teri Aane Lagi,


 


कभी बेबसी कभी तनहाई कभी तड़प तो कभी इंतज़ार,
क्या खुब मर्ज हैं ये भी जिसे सब लोग इश्क़ कहते हैं,

Kabhi Bebsi Kabhi Tanhaei Kabhi Tarap To,
Kabhi Eantjar,
Kya Khub Marj Hai Ye Bhi Jiae Sab Log,
ishq Kahte Hai,


 


किस्मत के तराज़ू में तो फकिर हैं,
हम और दर्द दे दिल में हम सा कोई नहीं,

Kismat Ke Traju Me To Fhakir Hai,
Ham Our Dard De Dil Me Ham Sa Koei Nhi,


 


लोग कहते हैं हम मुस्कुराते बहुत है,
और हम थक गए हैं दर्द छुपाते छुपाते,

Log Kahte Hai Ham Muskurate Bahut Hai,
Our Ham Thak Gye Hai Dard Chupate Chplupate,


Sad Ishq Shayari


ना तस्वीर हैं उसकी जो दीदार किया जाए।
ना तुम हो मेरे पास जो प्यार किया जाए।
ये कौन सा दर्द दिया है उस बेदर्द ने,
ना कुछ कहाँ जाए ना तुम बिन रहा जाए।

Na Taswir Bai Uaski Jo Didar Kiya Jaye,
Na Tum Ho Mere Pas Jo Payar Kiya Jaye,
Ye Kuain Sa Dard Diya Hai Uas Bedard Ne,
Na Kuchh Kaha Jaye Na Tum Bin Rha Jaye,


•••••• dard e ishq shayari ••••••


दर्द का सजा दे रह हूँ तुम्हें,
दिल का हर राज दे रहा हूँ तुम्हें,
ये गजल ये गीत सब बहाने हैं,
मैं तो आवज दे रहा हूँ तुम्हें,

Dard Ka Sja De Rah Rha Hu Tumhe,
Dil Ka Har Raj De Rha Hu Tumhe,
Ye Gajle Ye Dit Sab Bahane Hai,
My To Aawaj De Rha Hu Tumhe,


 


दर्द इतना है कि संभलता नहीं है,
तेरा दिल मेरे दिल से मिलता नहीं है,
और मै किस तरह बुलाऊ मैं तुम्हें,
तेरा दिल तो मेरे दिल को सुनता भी नहीं है,

Dard Eatna Hai Ki Sambhlta Nhi Hai,
Tera Dil Mere Dil Se Milta Nhi Hai,
Our My Kis Tarah Bulau My Tumhe,
Tera Dil To Mere Dil Ko Sunta Bhi Nhi Hai,


 


सुना हैं काफी पढ़ लिख गए हो तुम,
कभी वो भी तो पढ़ो जो हम कह नहीं पाते,

Suna Hai Kafhi Pad Likh Gye Ho Tum,
Kabhi Wo Bhi To Pado Jo Ham Kah Nhi Pate,


 


मेरे अकेलेपन को मेरा शौक ना समझो यारो,
बड़े ही प्यार से तोहफ़ा दिया है किसी चाहने वाले ने,

Mere Akelepan Ko Mera Suik Na Samjho Yaro,
Bre Hi Payar Se Tohfha Diya Hai Kisi Chahne,
Wale Ne,


Ishq Shayari in Hindi Font


कसूर तो बहुत किये ज़िन्दगी में,
पर सजा वहा मिली जहाँ बेकसूर थे हम,

Kasur To Bahut Kiye Jiandgi Me,
Par Sja Wha Mili Jaha Beksur The,


•••••• dard e ishq shayari ••••••


मेरी फ़ितरत में नहीं कि अपना गम बयाँ करू,
अगर तेरे दिल का हिस्सा हूँ तो महसूस कर तकलीफ मेरी,

Meri Fhitrat Me Nhi Ki Apna Gam Bya Kru,
Agar Tere Dil Ka Hussa Hu To Mahsus Kar Taklifh Meri,


 


बात करनी थी बात कैन करे,
दर्द से दो दो हाथ कोन करे,
हम सितारे तुम्हें बुलाते है,
चाँद ना हो तो रात कोन करे,

Bat Karni Thi Bat Kyain Kre,
Dard Se Do Do Hath Kon Kre,
Ham Sitare Tumhe Bulate Hai,
Chand Na Ho To Rat Kon Kre,


 


मैं ज़िन्दगी गिरवी रख दुगा,
तू सिर्फ किमत बता मुस्कुराने कि,

My Jiandgi Girwi Rakh Duga,
Tu Shirf Kimat Bta Muskurane Ki,


 


अफसोस होता हैं उस पल का,
जब अपनी पसंद कोई और चुरा लेता हैं,
ख्वाब हम देखते रहते हैं,
और हकीकत कोई और बना लेता हैं,

Afhsos Hota Hai Us Pal Ka,
Jab Apni Pasand Koei Our Chura Leta Hai,
Khawab Ham Dekhte Hai,
Our Hakikt Koei Our Bna Leta Hai,


Ishq wali Shayari


कभी टूट कर बिखरो तो मेरे पास आ जाना,
मुझे अपने जैसा लोग बहुत पसंद है,

Kabhi Tut Kar Bokhro To Mere Pas Aa Jana,
Mujhe Apne Jaisa Log Bahut Pasand Hai,


•••••• dard e ishq shayari ••••••


एक दिन वक्त भी साथ बैठकर रोया मेरे,
कहने लगा तू तो ठीक है बस मै ही खराब हूँ,

Ek Din Wakt Bhi Sath Baithkar Roya Mere,
Kahne Lag Tu To Thik Hai Bas My Hi Kharab Hu,


 


जो नसीब में नहीं होता वो रोने से भी नहीं मिलता,
कभी कभी दिल चाहता हैं, कि दिल अब कुछ भी ना चाहे,

Jo Nasib Me Nhi Hota Wo Rone Se Bhi Nhi Milta,
Kabhi Kabhi Dil Chahta Hai Ki Dil Ab Kuch Bhi Na Chahe,


 


लिखु क्या आज वक्त का तकाजा है,
दर्द ए दिल अभी ताजा हैं,

Likhu Kya Aaj Wakt Ka Ka Tkaja Hai,
Dard Y Dil Abhi Taja Hai,


 


किस्मत के तराज़ू में तो फकिर हैं,
हम और दर्द दे दिल में हम सा कोई नहीं,

Kismat Ke Traju Me To Fhakir Hai,
Ham Our Dard De Dil Me Ham Sa Koei Nhi,


Romantic ishq Shayari


कितना और दर्द देगा बस इतना बता दे,
ऐसा कर ये खुदा मेरी हस्ती मिटा दे,
यु घुट घुट के जिने से तो मौत बेहतर है,
मैं कभी ना जागू मुझे ऐसी नींद सुला दो,

Kitna Our Dard Dega Bas Eatna Bta De,
Yesa Kar Ye Khuda .eri Hasti Mita De,
Yu Ghut Ghut Ke Jine Se To Muit Ehtar Hai,
My Kabhi Na Jagu Mujhe Yesi Nind Sula Do,


•••••• dard e ishq shayari ••••••


दिल पर जख्म कुछ ऐसे मिले,
फूलों पर भी सोया ना गया,
दिल तो जल कर राख हो गया,
और आँखो से रोया भी न गया,

Dil Par Jakham Kuch Yese Mile,
Fhulo Par Bhi Soya Na Gya,
Dil To Jal Kar Rakh Ho Gya,
Our Aakho Se Roya Bhi N Gya,


 


कोई नहीं आऐगा मेरी जिंदगी में तुम्हारे में।
एक मैत ही हैं जिसका मै वादा नहीं करता।

Koei Nhi Aayega Meri Jandgi Me,
Tumhare Me,
Ek Muat Hi Hai Jinka Koei Wada Nhi Karta,


 


आँसू तेरी यादो की कैद में है,
तेरी याद आने से इन्हें जमानत मिल जाती हैं,

Aasu Teri Yado Ki Keaid Me Hai,
Teri Yad Aane Sw Eanhe Jamant Mil Jati Hai,


 


अजब है तेरी दुआओ का दस्तूर भी मेरे मौला,
मुहब्बत भी उन्ही को मिलती हैं,
जिन्हें निभानी नहीं आती,

Ajab Hai Teri Duaao Ka Dastur Bhi Mere Muila,
Muhbbt Bhi Uanhi Ko Milti Hai,
Jinhe Nibhani Nhi Aati,


Sad Shayari


कभी आकर देखना मेरे दिल में,
कि कितना फुर्सत से टुटा हैं, आशियाना मेरा,

Kabhi Aakar Dekhna Mere Dil ,
Ki Kitna Fhursat Se Tuta Hai Aasiyana Mera,


•••••• dard e ishq shayari ••••••


कभी सोचा करता था कैसे रह पाउगा तेरे बिना,
देख तुने ये भी सिखा दिया मुझे,

Kabhi Socha Karta Tha Kaise Rah Pauga Tere Bina,
Dekh Tune Ye Bhi Sikha Diya Mujhe,


 


मैं फिर से निकलुगा तालाश ए ज़िन्दगी में,
दुआ करना दोस्तों इस बार किसी से इश्क़ ना हो जाए,

My Fhir Se Nikluga Talas Ye Jiandgi Me,
Duaa Karna Dosto Eas Bar Kisi Se Iask Na Ho Jaye,


 


सिखा दिया है दुनिया ने ये अपनो पर भी शक करना,
वरना मेरी फ़ितरत में तो गौरो पर भी भरोसा करना था,

Sikha Diya Hai Duniya Ne Ye Apno Par Bhi Sak Karna,
Warna Meri Fhitrat Me To Jairo Par Bhi Bharosa Karna Tha,


 


माना तुम लफ्ह़जों के बादशाह हो,
पर हम भी खामोशियो पर राज करते हैं,

Mana Tum Lahfhjo Ke Badsah Ho,
Par Ham Bhi Khamosiyo Par Raj Karte Hai,


Dard Shayari


जिसके दिल पर भी क्या खूब गूजरी होगी,
जिसने इस दर्द का नाम मुहब्बत रखा होगा,

Jiske Dil Par Bhi Bhi Kya Khub Gujri Hogi,
Jinke Es Dard Ja Nam Muhbbt Rkha Hoga,


•••••• dard e ishq shayari ••••••


घाटे और मुनाफे का बाजार नहीं,
इश्क़ एक इबादत हैं कारोबार नहीं,

Ghate Our Munafhe Ka Bajar Nhi,
Eask Ek Ebadat Hai Karobar Nhi,


 


इंसान कितना भी खुशकिस्मत क्यों न हो,
उसकी कुछ ख़्वाहिशे अधुरी रह ही जाती है,

Eansan Kutna Bhi Khuskismat Kyo Na Ho,
Uaski Kuch Khwahise Adhuri Rah Hi Jati Hai,


 


खो जाओ मुझ में तो मालूम होगा कि दर्द क्या है,
ये वो किस्सा है जो ज़ुबान से बयाँ नहीं होता,

Kho Jaoo Mujb Me To Malum Hoga,
Ki Dard Kya Hai,
Ye Wo Kissa Hai Jo Juban Se Bya Nhi Hota,


 


इश्क़ लिखना चाहा तो कलम भी टूट गयी,
ये कहकर अगर लिखने से इश्क़ मिलता तो,
आज इश्क़ से जुदा होकर कोई टुटता नहीं,

Iashk Likhna Chaha To Kalam Bhi Tut Gyi,
Ye Kahkar Agar Likhne Se Iashk Milta To,
Aaj Iashk Se Juda Hokar Koei Tutta Nhi,


Mera Ishq Shayari


इतनी ठोकरें देने के लिए शुक्रिया ज़िन्दगी,
चलना तो नहीं मगर सम्भलने का हुनर तो आ गया,

Eatni Thokar Dene Ke Liye Sukriya Jiandgi,
Chlna To Nhi Magar Sambhlne Ka Hunar To Aa Gya,


•••••• dard e ishq shayari ••••••


आज रास्ते में कुछ प्यार भड़े पन्ने टुकडों में मिले,
शायद फिर किसी गरीब का प्यार का तमाशा हो गया,

Aaj Raste Me Kuch Payar Bhard Panne,
Tukre Me Mile,
Sayad Fhir Kisi Garib Ka Payar Ka,
Tamasa Ho Gya,


 


मोहब्बत नहीं थी तो एक बार समझाया होता,
बेचारा दिल तुम्हारी खामोशी को इश्क़ समझ बैठा,

Mohbbt Nhi Thi To Ek Bar Samjhaya Hota,
Bechara Dil Tumhari Khamosi Ko iashk Samjh Baitha,

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *