Dosti Shayari In Hindi

Dosti Par Shayari in Hindi | Dosti Nibhane Ki Shayari | Best 2021 दोस्ती शायरी

इस पोस्‍ट में आप Happy Friendship Day Shayari, Quotes, Wishes in Hindi में प्राप्‍त करके अपने दोस्‍तों के साथ शेयर कर सकते है। इतिहास के हर पन्ने पर लिखा है, दोस्ती कभी बड़ी नही होती, बल्कि दोस्ती निभाने वाले हमेशा बड़े होते है। दोस्ती से कीमती कोइ जागीर नहीं होती, Dosti Par Shayari in Hindi

 


तेरी दोस्ती को पलकों पर सजाऐगें,
जब तक ज़िन्दगी हैं साथ निभायेगें,
देने को तो कुछ नहीं हमारे पास,
पर तेरी खुशी माँगने खुदा के
पास जरूर जायेगें,

Teri Dosti Ko Palko Par Sajayege,
Jab Tak Jiandgi Hai Sath Nibhayege,
Dene Ko To Kuchh Nhi Hamare Pas,
Par Teri Khusi Magnr Khuda Ke
Pas Jarur Jayege,


 


एक रात खुदा ने मेरे दिल से पुछा,
तू दोस्ती में इतना क्यों खोया हैं,
दिल बोला दोस्तों ने ही दि हैं सारी खुशियाँ,
वरना प्यार करके तो दिल हमेसा रोया हैं,

Ek Rat Khuda Ne Mere Dil Se Puchha,
Tu Dosti Me Eatna Kyu Khoya Hai,
Dil Bola Diston Ne Hi Di Sari Khusiya,
Warna Payar Karke To Dil Hamesa Roya Hai,


 


ज़िन्दगी नहीं हमें दोस्तों से प्यारी,
दोस्तों के लिए हाजिर है जान हमारी,
आँखों में हमारी आँसू है तो क्या,
खुदा से भी प्यारी हैं मुस्कान तुम्हारी,

Jiandgi Nhi Hame Doston Se Payar Hai,
Doston Ke Liye Hajir Hai Jan Hamari,
Aakho Me Hamari Aasu Hai To Kya,
Khuda Se Vi Payari Hai Muskan Tumhari,


•••••• Dosti Shayari in Hindi ••••••


दोस्त का प्यार दुआ से कम नहीं होता,
दोस्त दुर हो फिर भी कोई गम नहीं होता,
प्यार में अक्सर कम हो जाती हैं दोस्ती,
पर दोस्ती में प्यार कभी कम नहीं होता,

Dost Ka Payar Duaa Se Kam Nhi Hota,
Dost Dur Ho Fhir Bhi Koei Gam Nhi Hota,
Payar Me Aksar Kam Ho Jati Hai Dosti,
Par Dosti Me Payar Kabhi Kam Nhi Hota,


 


गुनाह करके सजा से डरते हैं,
ज़हर पीकर दवा से डरते हैं,
दुश्मनों के सितम का खैफ नहीं हमें
हम दोस्तों के खफा होने से डरते हैं,

Gunah Karke Saja Se Darte Hai,
Jahar Pikar Dawa Se Darte Hai,
Dusmano Ke Sitam Ka Khufh Nhi Hme,
Ham Dost Ke Khfha Hone Se Darte Hai,


 


खीच कर उतार देते हैं उम्र कि चादर,
ये कमबख़्त दोस्त कभी बुढ़ा नहीं होने देते,

Khich Kar Utar Dete Hai Uamr Ki Chadar,
Ye Kambkhat Dost Kabhi Butha Nhi Hone Dete


 


सच्चे दोस्त हमें कभी गिरने नहीं देते,
न किसी के नजरों में न किसी के कदमों में,

Sache Dost Hame Kabhi Girne Nhi Dete
Na Kisi Ke Najro Me Na Kisi Ke Kadmo Me,


Dosti Shayari 2 Line


आदतें अलग है मेरी दुनिया वालो से,
दोस्त कम रखता हूँ पर लाजवाब रखता हूँ,

Aadte Alag Hai Meri Duniya Walo Se,
Dost Kam Rakhta Hu Par Lajawab Rakhta Hu,


•••••• Dosti Shayari in Hindi ••••••


उपर वाले ने दौलत भले ही कम दी हो,
लेकिन दोस्त सारे दिलदार दिये हैं,

Upar Wale Ne Doulat Bhale Hi Kam Di Ho,
Lekin Dost Sare Dildar Diye Hai,


 


दोस्त वो नहीं जो जान देती हैं,
दोस्ती वो भी नहीं जो मुस्कान देती हैं,
अरे अच्छी दोस्ती तो वो है,
जो पानी में गिरा हुआ आंसू पहचान लेती है,

Dost Wo Nhi Jo Jan Deti Hai,
Dost Wo Vi Nhi Jo Muskan Deti Hai,
Aree Achchi Dosti To Wo Hai,
Jo Pani Me Gira Huaa Aasu Pahchan Leti Hai,


Love Shayari in Hindi


जिसे दिल कि कलम और मुहब्बत की इंक कहते हैं,
जिसे लमहों की किताब और यादें का कवर कहते हैं,
यही वो सब्जेकट हैं जिसे Friendship कहते हैं,

Jise Dil Ki Kalam Our Muhbbt Ki Eask Kahte Hai,
Jise Lamho Ki Kitab Our Yade Ki Kawar Kahte Hai,
Yhi Wo Aabject Hai Jise Friendship Kahte Hai,


 


मंजिल मिलने से दोस्ती भुलाई नहीं जाती,
हमसफ़र मिलने से दोस्ती मिटाई नहीं जाती,
दोस्ती की कमी हर पल रहता है यार,
दुरियों से दोस्ती छुपाई नहीं जाती,

Manjil Milne Se Dosti Bhulaei Nhi Jati,
Hamsafhr Milne Se Dosti Mitaei Nhi Jati,
Dosti Ki Kami Har Pal Rahta Hai Yar,
Duriyo Se Dosti Chupaei Nhi Jati,


Sad Dosti Shayari in Hindi,


गीत की जरुरत महफिल में होती हैं,
प्यार की जरूरत हर दिल में होती हैं,
बिना दोस्त के अधूरी हैं जिंदगी,
कयोंकि दोस्त कि जरुरत हर पल में होती हैं,

Giat Ki Jarurt Mahfhil Me Hoti Hai,
Payar Ki Jarurt Har Dil Me Hoti Hai,
Bina Dost Ke Athuri Hai Jiandgi,
Kyuki Dost Ki Jarurt Har Pal Me Hoti Hai,


•••••• Dosti Shayari in Hindi ••••••


करनी है खुदा से गुज़ारिश,
तेरी दोस्ती के सिवा कोई बंदगी ना मिले,
हर जनम में मिले दोस्त तेरे जैसा,
या फिर कभी जिंदगी ना मिले,

Karni Hai Khuda Se Gujaris,
Teri Dosti Ke Siwa Koei Bandgi Na Mile,
Har Janam Me Mile Dost Tere Jaisa,
Ya Fhir Kabhi Jiandgi Na Mile,


 


ज़िक्र हुआ जब खुदा की रहमत का,
हमने खुद को खुशनसीब पाया,
तमनना भी एक प्यारे से दोस्त की,
खुदा खुद दोस्त बन के चला आया,

Jikr Huaa Jab Khuda Ki Rahmt Ka,
Hamne Khud Ko Khusnsib Paya,
Tamnna Vi Ek Payare Se Dost Ki,
Khuda Khud Dost Bankar Chala Aaya,


 


तुम बनके दोस्त ऐसे आए जिंदगी में,
के हम ये जमाना ही भूल गये,
तुम्हें याद आए ना आए हमारी कभी,
पर हम तो तुम्हें भूलना ही भूल गये,

Tum Babke Dost Yese Aaye Jiandgi Me,
Ke Ham Ye Jamana Hi Bhul Gye,
Tumhe Yad Aaye Na Aaye Hamari Kabhi,
Par Ham To Tume Bhulna Hi Bhul Gye,


 


समुन्दर ना हो तो कश्ती किस काम की,
मजाक ना हो तो मस्ती किस काम की,
दोस्तों के लिए तो कुर्बान हैं ये ज़िन्दगी,
अगर दोस्त ही ना हो तो फिर ज़िन्दगी किस काम की,

Samundar Na Ho To Kasti Kis Kam Ki,
Majak Na Ho To Masti Kis Kam Ki,
Doston Ke Liye Kuarban Hai Ye Jiandgi,
Agar Dost Hi Na Ho To Fhir
Jiandgi Kis Kam Ki,


Dosti Shayari Status


पत्थर तो हजारों ने मारे थे मुझे,
लेकिन जो दिल पे लगा आ
कर इस दोस्त ने मारा हैं,

Patthr To Hajaro Ne Mare The Mujhe,
Lekin Jo Dil Pe Lga Aa
Kar Eas Dost Ne Mara Hai,


•••••• Dosti Shayari in Hindi ••••••


एक चाहत होती हैं दोस्तों के
साथ जीने की जनाब,
वरना पता तो हमें भी है कि
मरना अकेले ही है,

Ek Chahat Hoti Hai Doston Ke,
Sath Jine Ki Jnab,
Warna Pta To Hame Vi Hai Ki,
Marna Akele Hi Hai,


 


दोस्ती आम है लेकिन ऐ दोस्त,
दोस्त मिलता है बड़ा मुश्किल से,

Dosti Aam Hai Lekin Ye Dost,
Dost Multa Bra Muskil Se,


 


दोस्ती किस से न थी किस से मुझे प्यार ना था,
जब बुड़े वक़्त पे देखा तो कोई याद ना था,

Dosti Kis Se Na Thi Kis Se Mujhe
Payar Na Tha,
Jab Bure Wakt Pe Dekha
To Koei Yad Na Tha,


 


ऐ तुम्हारी दोस्ती पर नाज़ करता हूँ,
मिलने की तुमसे हर समय खुदा से
फ़रियाद करता हूँ,
मुझे नहीं पता घरवाले कहते हैं,
कि मैं नींद में भी तुमसे बात करता हूँ,

Ye Tumhari Dosti Par Naj Karta Hu,
Milne Ki Tumse Har Samay
Khuda Se Fhariyad Karta Hai,
Mujhe Nhi Pata Garwale Kahte Hai,
Ki My Nind Me Vi Tumse Bat Karta Hu,


Ladki Dosti Shayari


दोस्ती एक अफ़साना है,
अपनाया तो अपना हैं,
भूल गया तो सपना हैं,

Dosti Ek Afhsana Hai,
Apnaya To Apna Hai,
Bhul Gya To Sapna Hai,


•••••• Dosti Par  Shayari in Hindi ••••••


इस से पहले की बेवफा हो जाए,
क्यों न ये दोस्त हम जुदा हो जाए,

Eas Se Pahle Ki Bewafha Ho Jaye,
Kyu Na Ye Dost Ham Juda Ho Jaye,


 


अच्छा दोस्त एक फूल कि तरह होता है,
जिसे हम छोर भी नहीं सकते और तौर
भी नहीं सकते,
तोड़ दिया तो मुरझा जाएगा और,
छोड़ दिया तो कोई और ले जाएगा,

Achchha Dost Ek Fhul Ki Tarh Hota Hai,
Jise Ham Chhor Vi Nhi Sakte Our
TourVi Nhi Sakte,
Tor Diya To Murjha Jayega Our,
Chhor Diya To Koei Our Le Jayeg,


 


ऐ दोस्त हम ने तर्क- मुहब्बत के बावजूद,
महसूस कि है तेरी जरुरत कभी कभी,

Ye Dost Ham Ne Takk Muhbbt Ke Bawjud,
Mahsus Ki Hai Teri Jarurt Kabhi Kabhi,


 


Sad Shayari in Hindi


लगे ना नज़र इस रिश्ते को जमाने की,
पड़े ना जरुरत कभी एक दूसरे को मनाने की,
आप ना छोड़ना मेरे साथ वरना,
तमन्ना ना रहेगी फिर दोस्त बनाने की,

Lge Na Najar Es Riste Ko Jamane Ki,
Pare Na Jarurt Kabhi Ek Dusre Ko Manane Ko,
Aap Na Chorna Mere Sath Warna,
Tamnna Na Rhegi Fhir Dost Banne Ki,


Hindi Shayari Dosti ke liye


सितारों के बगैर आसमान में क्या रखा है,
बिन तेरी जाने में रखा क्या है,
लगता हैं सब कुछ अधूरा सा,
दोस्ती के बगैर दुनिया में रखा क्या है,

Sitari Ke Beyger Aasman Me Kya Rkha Hai,
Bina Teri Jane Me Rkha Kya Hai,
Lagta Hai Sab Kuchh Athura Sa,
Dosti Ke Beyger Duniya Me Kya Rkha Hai,


•••••• Dosti Par  Shayari in Hindi ••••••


आपकी हमारी दोस्ती सुरों का साज हैं,
आप जैसे दोस्त पर हमें नाज़ हैं,
अब चाहे कुछ भी हो जाए ज़िन्दगी में,
दोस्ती वैसे ही रहेगी जैसे आज है,

Aapki Hamari Disti Suro Ka Saj Hai,
Aap Jaise Dost Par Hme Nah Hai,
AB Chahe Cuchh Vi Ho Jaye Jiandgi Me,
Dosti Wease Hi Rhegi Jeise Aaj Hai,


 


कुछ तो बात है तेरी फ़ितरत में ऐ दोस्त,
तुझे याद करने की खता हम बार बार ना करते,

Kuchh To Bat Hai Teri Fhihrat
Me Ye Dost,
Tujhe Yad Karne Ki Khata
Ham Bar Bar Karte Hai,


 


कुछ लोग कहते हैं कि दोस्ती बराबर
वालों से करनी चाहिए,
लेकिन हम कहते हैं दोस्ती में कोई
बराबरी नहीं करनी चाहिए,

Kuchh Log Kahte Hai Ki Dosti
Barabr Walo Se Karni Chahiye,
Lekin Ham Kahte Hai Dosti Me
Koei Barabri Nhi Karni Chahiye,


 


लोग पुछते हैं इतने गम में भी
खुश कैसे हो,
मैने कहाँ दुनिया साथ दे या ना
दे मेरा दोस्त मेरे साथ है,

Log Puchte Hai Eatne Gam
Me Vi Khus Kaeise,
Myene Kaha Duniya Sath De Ya
Na De Mera Dost Mere Sath Hai,


Best Dosti Shayari in Hindi,


दावे दोस्ती के मुझे नहीं आते यारो,
एक जान हैं जब दिल चाहें माग लेना,

Dawe Dost Ke Mujhe Nhi Aate Yaro,
Ek Jan Hai Jab Dil Chahe Mag Lena,


•••••• Dosti Par Shayari in Hindi ••••••


दोस्ती में ना कोई वार ना कोई दिन होता है,
ये तो वो एहसास हैं जिसमे बस यार होता है,

Dosti Me Na Koei War Na Koei Din Hota Hai,
Ye To Wo Yehsas Hai Jisme Bas Yar Hota Hai,


 


देखी जो नब्ज मेरी तो हँस कर बोला हकीम,
तेरे मर्ज़ का इलाज महफिल हैं तेरे दोस्तों की,

Dekhi Jo Nabj Meri To Has Kar Bona Hakim,
Tere Marj Ka Elaj Mahfhil Hai Tere Doston Ki,


 


हम वक्त गुजारने के लिए दोस्तों को नहीं रखते,
दोस्तों के साथ रहने के लिए वक्त रखते हैं,

Ham Wakt Jujarne Ke Liye Dost Ko
Nhi Rakhte,
Doston Ke Sath Rahne Ke Liye
Wakt Rakhte Hai,


 


कभी किसी को जजबातों का मजाक ना बनाना,
ना जाने कौन सा दर्द लेकर कोई जी रहा हैं,

Kabhi Kisi Ko Jajbato Ka Majak Na Banana,
Na Jane Kuain Sa Dard Lekar Koei Ji Rha Hai,


Hindi Shayari Dosti ke liye


ज़िन्दगी इतिहास फिर नहीं दोहृआती।
हर पल हर मोड़ पर दोस्तों कि याद आती।
दोस्ती ज़िन्दगी के लम्हो में है गुम हो जाती।
उन लम्हो को सोच कर हमारी आंखें नम हो जाती।

Jiandgi Eitihas Fhir Nhi Dohrati,
Har Pal Har Mor Par Dosto Ki Yad Aati,
Dosti Jiandgi Ke Lamho Me Hai Gum Ho Jati,
Uan Lamho Ko Soch Kar Hamari
Aakho Nam Ho Jati,


•••••• Dosti Par  Shayari in Hindi ••••••


जो दिल के करीब हो उसे रुसवा नहीं करते।
यूँ अपनी दोस्ती का तमाशा नहीं करते।
खामोश रहेगें तो घुटन और बढेगी।
अपनो से कोई बात छुपाया नहीं करते।

Jo Dil Ke Karib Ho Use Ruswa Nhi Karte,
Yu Apni Dosti Ka Tamasa Nhi Karte,
Khamos Rhoge To Ghutan Our Bthegi,
Apno Se Koei Bat Chhupaya Nhi Karte,


Attitude shayari


गुनगुनाना तो तकदीर में लिखा कर लाए थे।
खिलखिलाना दोस्तों से तोफहो में मिला है।

Gungunana To Takdir Me Likha Kar Laye The,
Khilkhilana Dosto Se Tohfha Me Mila Hai,


 


दोस्ती एक एहसास हैं जरुरत हैं।
बिना दोस्त के ज़िन्दगी बेकार हैं।

Dosti Ek Yehsas Hai Jarurt Hai,
Bian Dost Ke Jiandgi Bekar Hai,


 


हम लाख कोशिश कर ले लेकिन।
इस दिल को काबू में नहीं कर पाए।
शायद वो हमारी ज़िन्दगी कि आखरी लम्हा होगा।
जब हम अपने प्यारे यारो को भूल जाएंगे

Ham Lakh Kosis Kar Le Lekin,
Es Dil Ko Kabu Me Nhi Kar Paye
Sayad Wo Hamari Jiandgi Ki
Aakhri Lamha Hoga,
Jab Ham Apne Payare Yaro Ko Bhul Jayege,


Dosti shayri Attitude


कुछ तनहा सी हो गई है ज़िन्दगी।
जब से हरामखोर दोस्तों को इश्क़ हो गया है।

Kuchh Tanha Si Ho Gyi Hai Jiandgi,
Jab Se Hramkhor Dosto Ko Eask Ho Gya Hai,


•••••• Dosti par Shayari in Hindi ••••••


एक ताबीज़ तेरी मेरी दोस्ती को भी चाहिए।
थोड़ी सी दिखी नहीं कि नजर लगने लगती हैं।

Ek Tajib Teri Meri Dosti Ko Bhi Chahiye,
Thori Si Dikhi Nhi Ki Najar Lagne Lagti Hai,


 


नाज़ुक सा दिल कभी भूल से भी ना टूटे।
छोटी छोटी बातो से आप ना रुठे।
थोरी सी भी फिकर हैं अगर आपको हमारी।
तो कोशिश करना कि ये दोस्ती कभी ना टूटे

Najuk Sa Dil Kabhi Bhul Se Bhi Na Tute,
Chhoti Chhoti Bato Se Aap Na Rutho,
Thori Si Bhi Fhikar Hai Agar Aapki Hamari,
To Kosis Karna Ki Ye Dosti Kabhi Na Tute,


 


अच्छे दोस्तों को रुठने पर हमेशा मनाना चाहिए।
क्योंकि वो कमिने हमारे सारे राज जानते हैं।

Achchhe Dosto Ko Ruthne Par
Hamesa Manana Chahiye,
Kyu Ki Wo Kamine Hamare
Sare Raj Jante Hai,


 


फर्क तो अपने अपने सोच में हैं।
वरना दोस्ती भी मुहब्बत से कम नहीं होती।

Fhark To Apne Apne Soch Me Hai,
Warna Dosti Bhi Muhbbt Se Kam Nhi Hoti,


Fanny Dosti Shayari in Hindi


लोग कहते हैं जमी पर किसी को खुदा नहीं मिलता।
शायद उन लोगों को दोस्त कोई तुम सा नहीं मिलता।

Log Khte Gai Jami Par Kisi Ko
Khuda Nhi Milta,
Sayad Uan Logo Ko Dost Koei
Tum Sa Nhi Milta,


•••••• Dosti Par Shayari in Hindi ••••••


मुस्कुराहट तुम्हें से मिलती हैं।
दर्द कि राहत तुम्हें से मिलती हैं।
रुठना कभी मत ये दोस्त।
हमें जिने कि चाहत तुम्हें से मिलता हैं।

Muskuraht Tumhe Se Milti Hai,
Dard Ki Raht Tumhe Se Milta Hai,
Rutna Kabhi Mat Ye Dost,
Hame Jine Ki Chaht Tumhe Se Milti Hai,


,


मैं गुजरे पल को सोचुँ तो।
कुछ दोस्त बहुत याद आते हैं।

My Gujre Pal Ko Sochu To,
Kuchh Dost Bhut Yad Aate Hai,


 


दोस्तों कि डोरी कमजोर होती हैं।
आखो की बाते दिल के छोर होती हैं।
खुदा ने जब भी पूछा दोस्ती का मतलब।
हमारी उंगली आपकी ओर होती हैं।

Dosto Ki Doti Kamjor Hoti Hai,
Aakho Ki Bate Dil Ke Chhor Hoti Hai,
Khuda Ne Jab Bhi Puchha Dosti Ka Matlab,
Hamari Uangli Aapki Oor Hoti Hai,


 


बरे अजीब हैं ये ज़िन्दगी के रिश्ते।
अनजाने में पर कुछ लोग दोस्त बन जाते हैं।
मिलने का खुशी दे या ना दे।
बिछरने का गम जरूर दे जाते हैं।

Bare Ajib Hai Ye Jiandgi Ke Riste,
Anjane Me Par Kuchh Log Dost Ban Jate Hai,
Milne Ka Khusi De Ya Na De,
Bichrne Ka Gam Jarur De Jate Hai,


Dosti Shayari For best friend,


अब जाने कौन सी नगरी में।
आबाद हैं जाकर मुद्दत से।
मैं देर रात तक जागु तो।
कुछ दोस्त बहुत याद आते हैं

Ab Jane Koein Si Nagri Me,
Aabad Hai Jakar Mudat Se,
My Der Eat Tak Jagu To,
Kuchh Dost Bhut Yad Aate Hai,


•••••• Dosti Par  Shayari in Hindi ••••••


कुछ बाते थी फूलों जैसी।
कुछ लहजे खुशबु जैसे थे।
मैं शहर ए चमन में टहलु तो।
कुछ दोस्त बहुत याद आते हैं।

Kuchh Bate Thi Pholo Jaeisi,
Kuchh Lahje Khusbu Jaise The,
My Sahar Ye Chaman Me Thal To,
Kuchh Dost Bhut Yad Aate Hai,


 


सबकी ज़िन्दगी बदल गयी।
एक नए सिरे में ढल गई।
किसी को नौकरी से फुरसत नहीं।
किसी को दोस्तों की जरूरत नहीं।

Sabki Jiandgi Badal Gyi,
Ek Naye Sire Me Dal Gyi,
Kisi Ko Nakri Se Fhursat Nhi,
Kisi Ko Dosto Ki Jarurat Nhi,


 


आज दिल पूछ बैठा अपनी ही तस्वीर से।
तुने क्या पाया है तकदीर से।
तेरी तस्वीर दिल में बसा कर।
मैने ये प्यारा सा दोस्त पाया है दुनिया कि भीड़ से।

Aaj Dil Puchh Baitha Apni Hi
Taswir Se Tune Kya Paya Hai Takdir Se,
Teri Taswir Dil Me Basa Kar,
Maine Ye Payara Sa Dost Paya Hai,
Duniya Ki Bhir Se,


 


दिल में तुम्हारे अपनी कमी छोर जाऐगें।
आँखो में इतेजार की लकीर छोर जाऐगें।
याद रखना ढुढते रहेगें हमे।
दोस्ती की ऐसी कहानी छोर जाऐगें।

Dil Me Tumhare Apni Kami Chhor Jayege,
Aakho Me Etejar Ki Lakir Chhor Jayega,
Yad Rakhna Ththte Rhege Hame,
Dosti Ki Yesi Khani Chhor Jayege,


 


प्यार से कहो तो आसमान माग लो।
रुठ कर कहो तो मुस्कान माग लो।
तमन्ना यही है कि दोस्ती मत तोरना।
फिर चाहे हंसकर हमारी जान माग लो।

Payar Se Kaho To Aasman Mag Lo,
Ryth Kar Kaho To Muskan Mag Lo,
Tamnna Yhi Hai Ki Dosti Mat Torna,
Fhir Chjahe Has Kar Hamari Jan Mag Lo,


Sad Dosti Shayari in Hindi


ज़िन्दगी गुजर जाए पर दोस्ती कम ना हो।
याद हमे रखना चाहे पास हम ना हो।
कयामत तक चलता रहे ये प्यारा सा सफर।
दुआ करो कि कभी ये रिश्ता खत्म ना हो।

Jiandgi Gujar Jaye Par Dosti Kam Na Ho,
Yad Hame Rkhna Chahe Pas Ham Na Ho,
Kyamat Tak Chalta Rhe Ye Payara Sa Safhar,
Duaa Kro Ki Kabhi Ye Rista Khatam Na Ho,


•••••• Dosti Par Shayari in Hindi ••••••


अच्छा और सच्चा दोस्त एक फूल हैं।।
जिसे हम तोर भी नहीं सकते।
और अकेला छोर भी नहीं सकते।
अगर तौर लिया तो मुरझा जाएगा।
और छोर दिया तो कोई और ले जाएगा।

Achcha Our Sacha Dost Ek Fhul Hai,
Jise Ham Tor Bhi Nhi Sakte,
Our Akela Chhor Bhi Nhi Sakte,
Agar Tuor Liya To Murjha Jayega,
Agar Chhor Diya To Koei Our Le Jayega,


 


ज़िन्दगी के सारे गम क्यों बाट लेते हैं दोस्त।
क्यों ज़िन्दगी में साथ देते हैं दोस्त।
रिश्ता तो सिर्फ उनसे दिल से होता हैं। जी।
फिर भी क्यों हमें अपना मान लेते हैं दोस्त।

Jiandgi Ke Sare Gam Kyu Bat Lete Hai Dost,
Kyu Jiandgi Me Sath Dete Hai Dost,
Rista To Shirfh Uanke Dil Se Hota Hai Ji,
Fhir Bhi Kyu Hame Apna Man Lete Hai Dost,


 


आकाश के तारों में खो गया है एक तारा।
लगता हैं प्यार उन तारो में एक सितारा।
जो दोस्त इस समय पढ़ रहा है Messages हमारा।

Aakas Ke Taro Me Kho Gya Hai Ek Tara,
Lagta Hai Payar Uan Taro Me Ek Sitara,
Jo Dost Eas Samas Path Rha Hai
Messages Hamara,


 


ये दिन यू ही गुजर जायेगे।
हम दोस्त एक दिन बिछर जायेगें।
आप नाराज़ ना होना मेरी शरारत से।
एक दिन ये पल याद आयेंगे।

Ye Din Yu Hi Gujar Jayege,
Ham Dost Ek Din Bichar Jayega,
Aap Naraj Na Hona Meri Sarart Se,
Ek Din Ye Pal Yad Aayege,


Ladki Dosti Shayari


हर नमी में तेरी कमी तो रहेंगी।
आँखें कुछ नम तो रहेंगी।
ज़िन्दगी को हम कितना भी सवारें।
हमेशा आप जैसे दोस्त कि कमी तो होगी।

Ham Nami Me Teri Kami To Rhegi,
Aakhe Kuchh Name Rhegi,
Jiandgi Ko Ham Kitna Bhi Saware,
Hamesa Aap Jaisa Dost Ki Kami To Hogi,


•••••• Dosti Par Shayari in Hindi ••••••


तारों पे अकेले चाद जगमागाता हैं।
मुश्किलों में अकेले इंसान डगमगाता हैं।
काटो से मत खबराना मेरे दोस्त।
कयोंकि काटो में भी गुलाब मुस्कराता हैं।

Taro Pe Akele Chand Jagmagata Hai,
Muskilo Me Akele Eansan Dagmagata Hai,
Kato Se Mat Khabrana Mere Dost,
Kyuki Kato Me Bhi Gulab Muskurata Hai,


 


कभी रात में तारे गिन को देखना।
जितने तुम गिन पाये उतना तुम हमको याद करते हो।
ओर जितने तारे बच जाए उतना हम तुमको याद करते हैं।

Kabhi Rat Me Taro Ko Dekhna,
Jitne Tum Gin Paye Uatna
Tum Hamko Yad Karte Hai,
Our Jitne Taro Bach Jaye
Uatna Ham Tumko Yad Karte Hai,


 


काश दिल की आवाज़ में इतना असर हो जाए।
की हम जैसे याद करे असको खबर हो जाए।
रब से यही दुआ हैं हमारी।
कि जिसे आप चाहे वो आपका हमसफर हो जाए।

Kas Dil Ki Aawaj Me Eartna Aksar Ho Jaye,
Ki Ham Jaise Yad Kre Aasko Khabar Ho Jaye,
Rab Se Yhi Duaa Hai Hamari,
Ki Jise Aap Chahe Wo Aapka
Hamsafhar Ho Jaye,


 


अगर आपकी पलखो पे ख्याल रख जाये कोई।
अगर आपकी सासो पे नाम लिख जाये कोई।
इस लिए ये वादा करो भुलोगे नहीं हमें।
अगर हमसे भी प्यारा दोस्त मिल जाए कभी।

Agar Aapki Palkho Pe Khayal Rakh Jaye,
Agar Aapki Saso Pe Name Likh Jaye Koei,
Es Liye Ye Wada Kro Bhuloge Nhi Hame,
Agar Hamse Bhi Payara Dost Mil Jaye,


Beautiful Dosti Shayari


हम ने कहाँ ये बारिश जरा थम के बरस।
जब मेरे दोस्त आ जाए तो जम के बरस।
पहले ना बरस कि वो आ ना सके।
उसके आने के बाद इतना बरस कि वो जा ना सके।

Ham Ne Kaha Ye Baris Jra Tham Ke Baras,
Jab Mere Dost Aa Jaye To Jam Ke Baras,
Pahle Na Baras Ki Wo Aa Na Sake,
Uske Aane Ke Bad Eatna Baras
Ki Wo Ja Na Ske,


•••••• Dosti Par  Shayari in Hindi ••••••


ज़िन्दगी रहे या ना रहे दोस्ती रहेंगी।
पास रहो या दुर रहो यादे रहेंगी।
अपनी जिंदगी में हमेसा हसँते रहना।
कयोंकि तेरी हँसी में एक मुस्कान मेरी भी रहेगी।

Jiandgi Rhe Ya Na Rhe Dosti Rahegi,
Pas Rho Ya Dur Rho Yade Rahegi,
Apni Jiandgi Me Hamse Haste Rahna,
Kyuki Teri Hasi Me Ek Muskan
Meri Bhi Rahegi,


 


कोई कहता हैं दोस्ती नशा बन जाती हैं।
कोई कहता हैं दोस्ती सजा बन जाती हैं।
पर हम कहते हैं आपसे।
दोस्ती अगर सच्चे दिल से करो।
तो दोस्ती ही जिने कि वजह बन जाती हैं।

Kori Kahta Hai Dosti Nasa Ban Jati,
Koei Kahta Hai Dosti Saja Ban Jati Hai,
Par Ham Kahte Hai Aapse,
Dosti Agar Sachhe Dil Se Karo,
To Dosti Hi Jine Ki Wajah Ban Jati Hai,


Hindi Dosti shayri Attitude


दिल से निकली बात दिल को छू जाती हैं।
ये अक्सर अनोखी बात रह जाती हैं।
कुछ लोग दोस्ती के मायने बदल देते हैं।
पर किसी कि दोस्ती से दुनियां बदल जाती हैं।

Dil Se Nikli Bat Dil Ko Chhu Jati Hai,
Ye Aksar Anokhi Bat Rah Jati Hai,
Kuchh Log Dosti Ke Mayne Badal Dete Hai,
Par Kisi Ki Dosti Se Duniya Badal Jati Hai,


 


आँखो से आंसू क्यों छलक जाते हैं।
तन्हाईयों में गम क्यों याद आते हैं।
आँसू पोछ कर कोई ये बता दे हमसे।
दुर रहने वाले अक्सर क्यों याद आते हैं।

Aakho Se Aasu Kyo ChalkbJate Hai,
Tanharyo Me Gam Kyo Yad Aate Hai,
Aasu Pochh Kar Koei Ye Bata De Hamse,
Dur Rahne Wale Aksar Kyu Yad Aate Hai,


Dosti Shayari 2 Line


ताज़ी हवा में फूलो कि महक हो।
पहली किरन में चिड़ियो कि चहक हो।
जब भी आप अपनी पल्खे खोलो।
उन पलखो में खुशियो कि छलक हो

Taji Hawa Me Fhulo Ki Mahak Ho,
Pahli Kiran Me Chiriyo Ki Chhak Ho,
Jab Bhi Aap Apni Palkhe Khoto,
Uan Palkho Me Khusiyo Ki Chalk Ho,


•••••• Dosti Par  Shayari in Hindi ••••••


रात में जब आपकी याद आती हैं।
सितारो में आपकी तस्वीर नज़र आती हैं।
खोजती हैं आँखें उन चेहरे को।
जिनकी याद में सुबह हो जाती है।

Rat Me Jab Aapki Yad Aati Hai,
Ditare Me Aapki Taswir Najar Aati Hai,
Khojti Hai Aakhe Uan Chehre Ko,
Jianki Yad Me Subah Ho Jati Hai,


 


ज़िन्दगी आपकी फूलो कि तरह मुस्कुराये।
गम की हवा आपको छु भी ना पाए।
यू तो लाख आये मौसम पतझर के।
आपकी खुशी का एक फूल भी ना मुरझाये।

Jiandgi Aapki Fhulo Ki Tarfh Muskueaye,
Gam Ki Hawa Aapko Chhu Bhi Na Paye,
Yu To Lakh Aaye Musam Patjhar Ke,
Aapki Khusi Ka Ek Fhul Bhi Ba Murjhaye,


 


उगता हुआ सूरज रोशनी दे आपको।
खिला हुआ फूल खुशबू दे आपको।
हम तो खुशी देने के काबिल नहीं।
देने वाला हजार करोड़ खुशिया दे आपको।

Uagta Huaa Suraj Rosni De Aapko,
Khila Huaa Phul Khusbu De Aapko,
Ham To Khusi Dene Ke Kabil Nhi,
Dene Wala Hajar Karor Khusiya De Aapko,


 


खुशबू में भी एहसास होता हैं।
प्यार का रिश्ता खास होता है।
हर बार जुबा से कहना मुम्किन नहीं।
इस लिए दोस्ती का दुसरा नाम विसवास होता है।

Khusbu Me Bhi Yahsas Hota Hai,
Payar Ka Rista Khas Hota Hai,
Har Bar Juba Se Kahna Mumkin Nhi,
Eas Liye Dosti Ka Dusra Nam
Wiswas Hota Hai,


Dosti Shayari Status


वक्त के लम्हे परिंदे बन के उड़ जाएंगे।
पर यादो के निशान छोड़ जाएंगे।
दोस्त बन कर हम दोस्ती निभायेगें।
पर आपके जैसा दोस्त कहाँ से पायेगे।

Wakt Ke Lamhe Parinde Ban Ke Uar Jayega,
Par Yado Ke Nisan Chhor Jayga,
Dost Ban Kar Ham Dosti Nibhayega,
Par Aapke Jaisa Dost Kaha Se Payega,


•••••• Dosti Par Shayari in Hindi ••••••


मुरझाये फूल को खुशबु देना कोई आप से सीखे।
रुठे हुऐ को मनाना कोई आप से सिखे।
दोस्त बनाना तो हर कोई जानता है।
दोस्ती निभाना कोई आप से सिखे।

Murjhaye Fhul Ko Khusbu Dena Koei
Aao Se Sikhe,
Ruthe Huye Ko Manana Koei Aap Se Sikho,
Dost Banana To Har Koei Janta Hai,
Dosti Nibhana Koei Janta Hai,
Dosti Nibhana Koei Aap Se Sikhe,


Love Shayari in Hindi


दोस्त के लिए दोस्ती की सौगात होगी।
नये लोग होगे नई बात होगी।
हम हर हाल में मुस्कराते रहेंगे।
अपनी दोस्ती यूँही साथ होगी।

Dost Ke Liye Dosti Ki Suanght Hogi,
Nye Log Hone Naei Bat Hogi,
Ham Har Hal Me Muskrate Rhege,
Apni Dosti Yuhi Sath Hogi,


 


तेरा रिश्ता इस तरह निभायेगें।
तुम रोज खफा होना हम रोज मनायेगें।
पर मनाने से मान जाना।
वरना ये भिगी पलखे लेके हम कहाँ जायेगें।

Tera Rista Es Tarfh Nibhayege,
Tum Roj Khafha Hona Ham Roj Manayege,
Par Manane Se Man Jana,
Warna Ye Bhigi Palkhe Leke Ham
Kaha Jayege,


 


दोस्ती तो झोका हैं हवा का।
दोस्ती तो एक नाम है व़फा का
ओरो के लिए कुछ भी हो जाए
मेरे लिए दोस्त हसीन तोफा हैं खुदा का।

Dosti To Jhoka Hai Hawa Ka,
Dosti To Ek Name Hai Wagha Ka,
Aoro Ke Liye Dost Hasin Tofha Hai Khuda Ka,


Dosti Shayari in Hindi


दोस्ती एक रिश्ता हैं जो निभाए वो फरिश्ता हैं।
दोस्ती सच्ची प्रीत हैं जुदाई जिसकी रित हैं।
जुदा होके भी ना भुले यही दोस्ती की जित है।

Dost Ek Rista Hai Jo Nibhaye Wo Fhrista Hai,
Dosti Sachhi Parit Hai Judaei Jiaski Rit Hai,
Juda Hoke Bhi Na Bhule Yhi Dosti Ki Jit Hai,


•••••• Dosti Par Shayari in Hindi ••••••


राते गुमनाम होती हैं।
दिन किसी के नाम होता है।
हम ज़िन्दगी कुछ इस तरह से जिते हैं।
कि हर लम्हा सिर्फ दोस्त के नाम होता है।

Rate Gumnam Hoti Hai,
Din Kisi Ke Nam Hota Hai,
Ham Jiandgi Kuchh Eas Tarh Se Jite Hai,
Ki Har Lamha Sirfh Dost Ke Name Hota Hai,


 


एक प्यारी सी सुबह बोली उठ के देख क्या नज़ारा है।
मैने कहाँ रुक पहले Messages भेजने दे उसको जो
इस सुबह से भी प्यारा हैं मेरा पागल दोस्त।

Ek Payari Si Subah Boli Uath Dekh
Kya Najara Hai,
Maine Kaha Ruk Pale Massages Bhjne
De Uasko Jo,
Es Subah Se Bhi Payara Hai Mera Pagal Dost,

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *