Nafrat Shayari For Girlfriend

Nafrat Shayari For Girlfriend | Nafrat Shayari | खुद से नफरत शायरी

Nafrat Shayari For Girlfriend – इस पोस्ट में बेस्ट नफरत शायरी इन हिंदी का एक अच्छा संग्रह दिया गया है | इन शायरियों को आप अपने व्हाट्सएप या फेसबुक पर स्टेटस के रूप में लगा सकते हैं | अगर आपको प्यार में अपनी नफरत को जाहिर करना है | तो इन शायरियों से अच्छा कुछ और नहीं हो सकता |

नफरत किसी के दिल कब और कैसे पलती है | इसका एकदम सही अनुमान लगाना बड़ा ही कठिन हैं | पर जिसके दिल में प्रेम और ईश्वर वास करने लगे उसके दिल से नफरत हमेशा के लिए मिट जाता हैं | Nafrat Shayari For Girlfriend -ईश्वर ने सबसे बुद्धिमान जीव इंसान बनाया | लेकिन आज के युग में इंसान सारे जीवों से बदतर नजर आता हैं

आप के दर्द को कम करने के लिए मै कुछ ऐसी शायरी लाया हूं | जो आपको कहीं ना कहीं कुछ ना कुछ सुकून जरूर देगी
इसीलिए आप लोगों के लिए लेकर आया हूं | Nafrat Shayari For Girlfriend – अगर आपको यह शायरी पसंद आए तो प्लीज अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करिएगा अपने व्हाट्सएप ग्रुप में धन्यवाद दोस्तो,






Nafrat Shayari For Girlfriend

नफरत के बाजार में जिने का अलग ही मजा हैं,
लोग रुलाना नहीं छोड़ते और हम हँसना नहीं छोड़ते,

Nafrat Ke Bajar Me Jine Ka Alag Hi Mja Hai,
Log Rulana Nhi Chorte Our Ham,
HasnaNhi Chorte,


Nafrat Shayari For Girlfriend


नहीं हो तुम हिस्सा अब मेरी हसरत के,
तुम काबिल हो तो सिर्फ नफरत के,

Nhi Ho Tum Hussa Ab Meri Hasrat Ke,
Tum Kabil Ho To Shirf Nafrat Ke,


•••••• Nafrat Shayari For Girlfriend ••••••


मिलना बिछड़ना सब किस्मत का खेल है,
कभी नफरत तो कभी दिलो का मेल है,
बिक जाता हैं हर रिश्ता दुनियां में,
सिर्फ दोस्ती का यहा नाँट पर सेल हैं,

Milna Bichrna Sab Kismat Ka Khel Hai,
Kabhi Nafrat To Kabhi Dilo Ka Mel Hai,
Bik Jata Hai Har Rista Duniya Me,
Shirf Dosti Ka Yha Noiat Par Sel Hai,


 


मोहब्बत करो तो हद से ज्यादा,
और नफरत करो तो उससे भी ज्यादा,

Mohbbat Kro To Had Se Jayada,
Our Nafrat Kro To Usse Bhi Jayada,


Zindagi Se Nafrat Shayari


कुछ लोग हमारी नफरत के काबिल भी ना होते,
और हम उन पर अपनी मोहब्बत जाया कर देते हैं,

Kuch Log Hamari Nafrat Ke Kabil Bhi Na Hote,
Our Ham Par Apni Mohbbat Jaya Kar Dete Hai


•••••• Nafrat Shayari For Girlfriend ••••••

 


तरक्की के दौर में नफरत लिये फिरते हैं,
जब अंहकार टुटता तो दर दर भटकते है,

Tarkki Ke Duair Me Nafrat Liye Fhirte Hai,
Jab Ahnkar Tutta To Dar Dar Bhatkte Hai,


 


तेरी नफरत में वो तो दम कहाँ,
जो मेरी चाहत को कम करे,

Teri Nafrat Me Wo To Dam Kaha,
Jo Meri Chahat Ko Kam Kre,


 


मुझसे नफरत करनी है तो इरादे मजबूत रखना,
वरना जरा सा भी चुके तो मोहब्बत हो जाएगी,

Mujse Nafrat Karni Hai To Erade Majbut Rakhna,
Warna Jra Sa Bhi Chuke To Mohbbat Ho Jayegi,


 


गुजरे हैं तेरे इश्क़ में कुछ इस मुकाम से,
नफरत सी हो गई हैं मोहब्बत के नाम से,

Gujre Hai Tere Ishq Me Kuchh Mukam Se,
Nafrat Si Ho Gyi Hai Mohbbat Ke Nam Se,


 


इश्क़ में वफा का ग़ुरूर जब टूटता हैं,
तब सबसे ज्यादा नफरत खुद से ही होती हैं,

Ishq Me Wafha Ka Gurur Jab Tutta Hai,
Tab Sabse Jayada Nafrat Khud Se Hi Hoti Hai,


😎Nafrat Attitude Status🤠


इतनी नफरत हैं उसे मेरी मोहब्बत से,
उसने अपने हाथ जला लिए मेरी तकदीर मिटाने के लिए,

Eatni Nafrat Hai Use Meri Mohbbat Se,
Usne Apne Hath Jla Liye Meri,
Takdir Mitane Ke Liye,


•••••• Nafrat Shayari For Girlfriend ••••••


Nafrat Shayari For Girlfriend

एक झूठ मैने तुमसे कहाँ मुझे नफरत हैं तुमसे,
एक झूठ तुम भी कह दो तुम्हें मोहब्बत हैं मुझसे,

Ek Jhuth Maine Tumse Kaha,
Nafrat Hai Tumse,
Ek Jhuth Tum Bhi Kah Do Tumhe,
Mohbbat Hai Mujhse,


 


दिल टुटना लाज़मी था इस शहर में,
जहाँ हर कोई दिल में नफरत लिये चलता है,

Dil Tutna Lajmi Tha Eas Sahar Me,
Jaha Har Koei Dil Me Nafrat Liye Chalta Hai,


 


वो इंकार करते हैं इकरार के लिए,
नफरत करते हैं तो प्यारा के लिए,
उलटी चाल चलते हैं ये इश्क़ वाले,
आँखें बंद करते हैं दीदार के लिए,

Wo Eankar Karte Hai Eankrar Ke Liye,
Nafrat Karte Hai To Payar Ke Liye,
Ualti Chal Chalte Hai Ye Ishq Wale,
Aakhe Band Karte Hai Didar Ke Liye,


 


किसी के लिए तो नफरत से भर दे,
भर गया उसका दिल मोहब्बत से,

Kisi Ke Liye To Nafrat Se Bhr De,
Bhar Gya Uska Dil Mohbbat Se,


I hate You Shayari


कोई गुस्सा हो तुम्हारी भलाई के लिए,
समझ लेना उसके दिल में प्यार बहुत हैं तुम्हारे लिए,

Koei Gussa Ho Tumhari Bhalaei Ke Liye,
Samjh Lena Uske Dil Me Payr,
Bahut Hai Tumhare Liye,


•••••• Nafrat Shayari For Girlfriend ••••••


नफरत हो तो यकीन नहीं दिलाना पड़ता हैं,
मोहब्बत में ही सबूत कि जरुरत पड़ती हैं,

Nafrat Ho To Ykin Nho Dilana Parta Hai,
Mohbbat Me Hi Sabuat Ki Jarurat Parti Hai,


 


इश्क़ या खुदा को दिल मे बसा लो,
दिल से नफरत हमेशा के लिए खत्म हो जाएगी,

Ishq Ya Khuda Ko Dil Me Bsa Lo,
Dil Se Nafrat Hamesa Ke Liye Khatam Ho Jayegi,


 


नफरत अक्सर वहीं करते हैं,
जो कुछ ज्यादा ही फुरसत में होते हैं,

Nafrat Aksar Wahi Karte Hai,
Jo Kuch Jayada Hi Fhursat Me Hote Hai,


 


दिल में अगर पली बेजान कोई हसरत ना होती,
हम इंसानों को इंसानों से यू नफरत ना होती,

Dil Me Agar Pali Bejan Kpei Hasrat Na Hoti,
Ham Eansan Ko Eansan Se Yu Nafrat Na Hoti,


Nafrat shayari Image


कोई तो वजह होगी बेवजह को नफरत नहीं करता,
हम तो उनकी दिल कि समझते हैं,
वो हमे समझने की कोशिश नहीं करता,

Koei To Wajah Hogi Bewajah Ko Nafrat Nhi Karta,
Ham To Uanki Dil Ki Samjhte Hai,
Wo Hame Samjhne Ki Kosis Nhi Karta,


•••••• Nafrat Shayari For Girlfriend ••••••


जिसकी अंहकार पुरखो कि कमाई पर पले हैं,
आज वो हमसे नफरत कि लड़ाई जितने चले हैं,

Jiski Ahnkar Purkho Ki Kamaei Par Ple Hai,
Aaj Wo Hamse Nafrat Ki Laraei Jitne Chle Hai,


 


Nafrat Shayari For Girlfriend

झूठी नफरत को जताना छोड़ दे,
भिगों के खत मेरा जलाना छोड़ दे,

Jhuthi Nafrat Ko Jatana Chor De,
Bhigo Ke Khat Mera Halana Chor De,


 


फूलो के साथ काटें भी मिल जाते हैं,
खुशी के साथ गम भी मिल जाते हैं,
यह तो मजबूरी हैं हर आशिक़ कि,
वरना प्यार में नफरत कोई जान बुझ कर नहीं करता,

Fhulo Ke Sath Kate Bhi Mil Jate Hai,
Khusi Ke Sath Gam Bhi Mil Jate Hai,
Yah To Majburi Hai Har Aasiq Ki,
Warna Payar Me Nafrat Koei Jan Bujh,
Kar Nhi Karta,


 


उसकी नफरतो को धार किसने दी,
मोहब्बत के हाथों तलवार किसने दी,

Uaski Nafrato Ko Dhara Kisne Di,
Mohbbat Ke Hatho Talwar Kisne Di,


Nafrat Shayari 2 Line


चाह कर भी मुंह फेर नहीं पा रहे हो,
नफरत करते हो या इश्क़ निभा रहे हो,

Chah Kar Bhi Muh Fher Nhi Pa Rhe Ho,
Nafrat Karte Ho Ya Ishq Nibha Rhe Ho,


•••••• Nafrat Shayari For Girlfriend ••••••


अगर इंसान खुशी चाहते हैं,
तो फिर क्यों दिल में नफरत पालते हैं,

Agar Eansan Khusi Chahte Hai,
To Fhir Kyo Dil Me Nafrat Palte Hai,


 


थी नफरत अक्स से वो आईना तोड़ना सिख गया,
वो अपनी गलती पर भी मुँह मोड़ना सिख गया,

Thi Nafrat Aksa Se Wo Aaeina Torna Sikh Gya,
Wo Apni Galti Par Bhi Muh Morna Sikh Gya,


 


ऐ दोस्तों नफरतो को पाल कर उससे चिनगारी मत लगाओ,
खुदा ने तुमको क्या नहीं दिया कुछ अपना भी दिमाग लगाओ,

Ye Dosto Nafrao Ko Pal Kar Usse Chingati,
Mat Lagaoo,
Khuda Ne Tumko Kya Nhi Diya Kuchh,
Apna Bhi Dimag Lagaoo,


 


तेरी नफरत को मैने प्यार समझ कर अपनाया हैं,
प्यार से ही नफरत खत्म होता हैं,
तूने ही तो समझाया हैं,

Teri Nafrat Ko Maine Payar Samjh,
Kar Apnaya Hai,
Payar Se Hi Nafrat Khatam Hota Hai,
Tune Hi To Samjhaya Hai,


Khud Se Nafrat Shayari


मोहब्बत सच्ची हो तो कभी नफरत नहीं होती हैं,
अगर नफरत होती हैं तो मोहब्बत सच्ची नहीं होती हैं,

Mohbbat Sachhi Ho To Kabho Nafrat,
Nhi Hoti Hai,
Agar Nafrat Hoti Hai To Mohbbat Sachhi,
Nho Hoti Hai,


•••••• Nafrat Shayari For Girlfriend ••••••


खुदा सलामत रखना उन्हें,
जो हमसे नफरत करते हैं,
प्यार ना सही नफरत ही सही,
कुछ तो है जो सिर्फ हमसे करते हैं,

Khuda Salamt Rakhna Uanhe,
Jo Hamse Nafrat Karte Hi,
Payar Na Shi Nafrat Hi Shi,
Kuch To Hai Jo Shirf Hamse Karte Hai,


 


हमे बर्बाद करना है तो हमसे प्यारा करो,
नफरत करोगे तो खुद बर्बाद हो जाऐगे,

Hame Barbad Karna Hai To Hamse Payar Kro,
Nafrat Kroge To Khud Barbad Ho Jayege,


 


Nafrat Shayari For Girlfriend

नफरत हो दिल में तो मिलने का मजा नहीं आता है,
वो आज भी मिलता हैं पर दिल कही और छोड़ आता हैं,

Nafrat Ho Dil Me To Milne Ka Maja,
Nhi Aata Hai,
Wo Aaj Bhi Milta Hai Par Dil,
Kahi Our Chor Aata Hai,


 


दिल पर ना मेरे यू वार कीजिए,
छोड़ो ये नफरत थोड़ा प्यार कीजिए,
तड़पते हैं जिस कदर तेरे प्यार में हम,
कभी खुद को भी उस कदर बेक़रार कीजिए,

Dil Par Na Mere Yu War Kijiye,
Choro Ye Nafrat Thora Payar Kihiye,
Tarpte Hai Jis Kadar Tere paya Me Ham,
Kabhi Khud Ko Bhi Us Kadar Bekrar Kijiye,


Zindagi Se Nafrat Shayari


मेरे दिल ने उस पर यकीन किया था,
नफरत क्यों करुँ अगर उसने दिल तोड़ दिया,

Mere Dil Ne Us Par Ykin Kiya Tha,
Nafrat Kyo Kru Agar Usne Dil Tor Diya,


•••••• Nafrat Shayari For Girlfriend ••••••


बैठ कर सोचते हैं अब कि क्या खोया क्या पाया,
उनकी नफरत ने तोड़े हैं बहुत मेरी वफा का घर,

Baitha Kar Sochte Hai Ab Ki Kya,
Khoya Kya Paya,
Uanki Nafrat Ne Tore Hai Bahut,
Meri Wafha Ka Ghar,


 


बेहिसाब नफरत के लायक हो तुम,
मगर बेहिसाब मोहब्बत हैं मुझे तुमसे,

Behisab Nafrat Ke Layak Ho Tum,
Magar Behisab Mohbbat Hai Mujhe Tumse,


 


प्यार करता हूँ इसलिए फिक्र करता हूँ,
नफरत करुगा तो जिक्र भी नहीं करुगा,

Payar Karta Hu Easliye Fhikr Karta Hu,
Nafrat Karuga To Jikar Bhi Nhi Kruga,


 


किसी को नफरत हैं मुझसे और कोई प्यार कर बैठा,
किसी को यकिन नहीं मेरा और कोई एतवार कर बैठा,

Kisi Ko Nafrat Hai Munhse,
Our Koei Payar Kar Baitha,
Kisi Ko Ykin Nhi Mera Our Koei Yetwar Kar Baitha,


Nafrat shayari in English


मैं फना हो गया अफसोस वो बदला भी नहीं,
मेरी चाहतें से भी सच्ची रही नफरत उसकी,

My Fna Ho Gya Afhsos Wo Badla Bhi Nhi,
Meri Chahte Se Bhi Sacbhi Rhi Nafrat Uaski,


•••••• Nafrat Shayari For Girlfriend ••••••


ज़िन्दगी से नफरत किसे होती हैं,
मरने कि चाहत किसे होती हैं,
प्यार भी एक इतेफा़क होता हैं,
वरना आँसूओ से मोहब्बत किसे होती हैं,

Jiandgi Se Nafrat Kise Hoti Hai,
Marne Ki Chahat Kise Hoti Hai,
Payar Bhi Ek Etefhak Hota Hai,
Warna Aasuoo Se Mohbbat Kise Hoti Hai,


 


नफरत से होने लगी है इस सफर से अब,
ज़िन्दगी कही तो पहुचा दे खत्म होने से पहले,

Nafrat Se Hone Lagi Hai Eas Safhar Se Ab,
Jiandgi Kahi To Pahucha De Kahtam,
Hone Se Pahle,


 


प्यार में बेवफ़ाई मिले तो गम ना करना।
अपनी आँखें किसी के लिए नम न करना।
वो चाहे लाख नफरते करे तुझसे।
पर तुम अपना प्यार कभी उसके लिए कम मत करना।

Payar Me Webfhei Mile To Gam Na Karna,
Apni Aakhe Kisi Ke Liye Nam Na Karna,
Wo Chahe Lakh Nafhrte Kre Tujhse,
Par Tum Apna Payar Kabhi
Uaske Liye Kam Mat Karna,


 


Nafrat Shayari For Girlfriend

देख के हमें वो सिर झुकाते हैं।
बुला के महफिल में नजर चुराते हैं।
नफरत हैं हमसे तो भी कोई बात नहीं।
पर गैरो से मिल के दिल क्यों जलाते हो।

Dekh Ke Hame Wo Sir Jhukate Hai,
Bula Ke Mahfhil Me Najar Churate Hai,
Nafrat Hai Hamse To Bhi Koei Bat Nhi,
Par Gairo Se Mil Ke Dil Kyo Jalate Ho,


Nafrat Shayari for Boyfriend


नफरत को मुहब्बत की आँखो में देखा।
बेरुखी को उनकी अदाओ में देखा।
आँखें नम हुए और मै रो पड़ा।
जब अपने को गैरों कि बाहो में देखा।

Nafrat Ko Muhbbt Ki Aakho Me Dekha,
Berukhi Ko Uanki Aadto Me Dekha,
Aakhe Nam Huei Our My Ro Para,
Jab Apne Ko Gairo Ki Baho Me Dekha,


•••••• Nafrat Shayari For Girlfriend ••••••


जो लोग नफरत करते हैं वो लोग अच्छे लगते हैं।
क्योंकि अगर सब मुहब्बत करेंगे तो
कहीं नज़र ना लग जाए मुझे।

Jo Log Nafhrat Kerte Hai Wo Log Achhe
Lagte Hai,
Kyoki Agar Sab Muhbbt Krege To,
Kahi Nahar Na Lag Jaye Mujhe,


 


अब हम तो नये नफरत करने वाले तालाश करते हैं।
कयोंकि पुराने वाले तो अब हमसे मुहब्बत किया करते हैं।

Ab Ham To Nye Kafhrat Karne Wale
Tanas Kaete Hai,
Kyoki Purane Wale To Ab Hamse
Muhbbt Kiya Karte Hai,


👉 ये भी पढ़े

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *