Tune dhoka diya Shayari

Tune Dhoka Diya Shayari | Apno ka Dhoka Shayari | Dhoka Shayari 2021

Tune Dhoka Diya Shayari – आप सभी दोस्तों का स्वागत है हमारे एक नई पोस्ट में तो दोस्तों आज हम आपके लिए लेकर आए हैं |Dhokha shayari दोस्तों मैं आपको बता दूं जब किसी को प्यार में धोखा मिल जाता है|तो अपनी जिंदगी में वह बहुत उदास रहता है वह अपनी जिंदगी में टूटा टूटा रहता है उसे समझ में नहीं आता है कि वह अपनी जिंदगी में क्या करें क्या ना करें

प्यार इश्क मोहब्बत इन सभी शब्दों को, सुनने में बड़ा अच्छा लगता है|पर जब अपनी मोहब्बत ही बेवफा निकलती हैं|तो बड़ा दर्द होता है प्यार करना तो बड़ा, आसान होता है पर उसे भुला देने में पूरी उम्र लग जाती हैं|और फिर भी हम उन्हें भुला नहीं पाते हैं प्यार में धोखा एक बड़ी आम बात हो चुकी है|

खासकर आजकल प्यार में धोखा बहुत ज्यादा हो रहा है | आप के दर्द को कम करने के लिए मै कुछ ऐसी शायरी लाया हूं जो आपको कहीं ना कहीं कुछ ना कुछ सुकून जरूर देगी इसीलिए आप लोगों के लिए लेकर आया हूं | Dhokha shayari in Hindi अगर आपको यह शायरी पसंद आए तो प्लीज अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करिएगा अपने व्हाट्सएप ग्रुप में धन्यवाद दोस्तों


1.
धोखा देकर उसे जरा भी सिकंज ना था,
मेरे हर एक वफा को उसने मोड़ हि दिया था,Dhokha Dekar Use Jra Bhi Sikanj Na Tha,
Mere Har Ek Wfha Ko Usne Mor Hi Diya Tha,

Dhoka Shayari in Hindi

2.
दर्द दर्द का ठोकर खाकर टुट गया हूँ,
अब मै तुम्हें भूल गया हूँ,Dard Dard Ka Thokar Khakar Tut Gya Hu,
Ab My Tumhe Bhul Gya Hu,

•••••• Tune Dhoka Diya Shayari ••••••

3.
धोखा खाकर जिने से अच्छा है,
अकेला जिना सिख लो,
इस दुनिया में प्यार साथ नही निभाता,
ये जान कर रख लो,Dhokha Khakar Jine Se Achha Hai,
Akela Jina Sikh Lo,
Es Duniya Me Payar Sath Nhi Nibhata,
Ye Jan Kar Rakh Lo,




4.
धोखा तो मैने खूब खा लिये,
आगे भी अब सह लेगे,
तू बन किसी और कि महबूबा,
अब हम भी जिना सिख लेगे,Thokha To Maine Khub Kha Liye,
Aage Bhi Ab Sah Lege,
Tu Ban Kisi Our Ki Mahbuba,
Ab Ham Bhi Jina Sikh Lege,

5.
कब तक वो मुझे इस तरह देख कर भी इंकार करेगा,
एक दिन तो वो देख कर मुझे इकरार जरूर करेगा,Kab Tak Wo Mujhe Eas Trah Dekh,
Kar Bhi Eankar Karega,
Ek Din To Wo Dekh Kar Mujhe,
Eakrar Jarur Karega,

Kyu Dhoka Diya Shayari

6.
कभी किसी को धोखा मत देना,
घुट घुट कर तड़पने का दर्द,
ऐसे किसी को ना देना,Kabhi Kisi Ko Dhokha Mat Dena,
Ghut Ghut Kar Tarpne Ka Dard,
Yese Kisi Ko Na Dena,

•••••• Tune Dhoka Diya Shayari ••••••




7.
धोखा तो आसान था जो तुमने मुझे दे दिया,
मेरी चाहत बहुत कठिन थी जो मैने आज भी किया,Dhokha To Aasan Tha Jo Tumne Mujhe De Diya,
Meri Chaht Bahut Kathin Thi Jo Maine,
Aaj Bhi Kiya,

8.
साथ जिने मरने का वादा था
मर के भी साथ ना छोड़ने का वादा था,
सारी बातो से तू मुखर क्यों गयी,
ऐ सनम तू मुझको धोखा देकर चली गयी,Sath Jine Marne Ka Wada Tha,
Mar Ke Bhi Sath Na Chorne Ka Wada Tha,
Sari Bate Se Tu Mukhar Kyo Gyi,
Ye Sanam Tu Mujhko Dhokha Dekar Chli Gyi,
Tune Dhoka Diya Shayari
Tune Dhoka Diya Shayari

9.
चलो धोखा ही था तुम्हारा इश्क़,
सब कुछ था तो झूठ अपनी जुबा को कहने देते,
मैं खुश था मुझे धोखे में ही रहने देते,Clo Dhokha Hi Tha Tumhara Ishq,
Sab Kuch Tha To Jhuth Apni,
Juba Ko Kahne Dete,
My Khus Tha Mujhe Dhokhe Me Hi Rahne Dete,



10.
प्यार तो तुझसे ही क्या था बेपनाह,
तुने तोड़ कैसे दिया मेरे प्यार के खत को,
कागज का टुकडा समझ कर फेक कैसे दिया,Payar To Tujhse Hi Kya Tha Bepnah,
Tunr Tor Kaise Diya Mere Payar Ke Khat Ko,
Kagaj Ka Tukra Samjh Kar Fhek Kaise Diya,

Apno ka Dhoka Shayari

11.
तुने मुझे धोखा दिया मैने तब भी प्यार किया,
मेरा साथ छोड़ कर तुने मुझे पागल बना दिया,Tune Mujhe Dhokha Diya Maine Bhi Payar Kiya,
Mera Sath Chor Kar Tune Mujhe Pagal Bna Diya,

•••••• Tune Dhoka Diya Shayari ••••••

12.
धोखा कि एक बात बतता हूँ,
ये तो सिर्फ प्यार को ही अपना बनाता है,
ना चाह कर भी ऐ दरार कर जाता हैं,Dhokha Ki Ek Bat Btta Hu,
Ye To Shirf Payar Ko Hi Apni Bnata Hai,
Na Chah Kar Bhi Ye Drar Kar Jata Hai,




13.
धोखा पाकर मैने रोया हैं,
फिर भी अपने आप को सभाल कर रखा है,Dhokha Pakar Maine Roya Hai,
Fhir Bhi Apne Aap Ko Sambhal Kar Rha Hai,

14.
प्यार हमने कुछ यूँ किया था,
हर तकलीफ में तेरा साथ दिया था,
तूने वो सारी बातें भूला डाली,
प्यार करने वाले इन्सान को हि धोखे दे डाली,Payar Hamne Kuch Yu Kiya Tha,
Har Taklifg Me Tera Sath Diya Tha,
Tune Wo Sari Bate Bhul Dali,
Payar Karne Wale Eansan Ko,
Hi Dhokhe De Dali,

15.
धोखा किया है तुमने और बदनाम हम हो गए,
सब कुछ लुटा हैं मेरा और मसहूर तुम हो गए,Dhokh Kiya Hai Tumne Our,
Badnam Ham Ho Gye,
Sab Kuch Luta Hai Mera Our Mashur,
Tum Ho Gye,

Kisi Ne Dhoka Diya Shayari

16.
हम तेरी चाहत में धोखा खा गए,
तेरी ज़िन्दगी बनाने के चक्कर में,
सब कुछ तबाह कर गए,Ham Teri Chahat Me Dhokha Kha Gye,
Teri Jiandgi Banane Ke Chakar Me,
Sab Kuch Tabah Kar Gye,

•••••• Tune Dhoka Diya Shayari ••••••




17.
कुछ लोग हमारी ज़िन्दगी बन जाती हैं,
प्यार कि निशान बन जाती हैं,
अचानक हि फिर हमारी,
धोखे के वजह ही बन जाती हैं,Kuch Log Hamari Jiandgi Ban Jati Hai,
Payar Ki Nasan Ban Jati Hai,
Achnak Hi Fhir Hamari,
Dhokha Ke Wajah Hi Ban Jati Hai,

18.
धोखा तुमने मुझे ऐसा दे दिया,
मेरी ज़िन्दगी जिने का लम्हा बदल गया,Dhokha Tumne Mujhe De Diya,
Meri Jiandgi Jine Ka Lamha Badal Gya
Tune Dhoka Diya Shayari
Tune Dhoka Diya Shayari

19.
तुझसे प्यार बहुत ज्यादा था,
तेरी हर बात का मुझे अंदाजा था,
तुने मुझे अचानक कुछ ऐसा दर्द दे दिया,
धोखा का तोहफ़ा मेरे दिल को दे दिया,Tumse Payar Bahut Jayada Tha,
Teri Har Bat Ka Mujhe Aindaja Tha,
Tune Mujhe Achanak Kuch Yesa Dard De Diya,
Dhokha Ka Tohfha Mere Dil Ko De Diya,



20.
वफा करते करते अब मैं थक गया हूँ,
इस लिए मै उसे छोड़ कर आराम से रह रहा हूँ,Wafha Karte Karte Ab My Thak Gya Hu,
Eas Liye My Use Chor Kar Aaram Se Rah Rha Hu,

Apno ne diya dhokha shayari

21.
धोखा देकर तुमने अच्छा नहीं किया,
क्यों ऐसा सितम तुमने मेरे साथ किया,Dhokha Dekar Tumne Achcha Nhi Kiya,
Kyo Yesa Sitam Tumne Mere Sath Kiya,

•••••• Tune Dhoka Diya Shayari ••••••

22.
ना सोचा था कभी ऐसा होगा कि,
रास्ते के हर मोड़ पर हमें,
धोखा का रास्ता मिलेगा,Na Socha Na Kabhi Yesa Hoga Ki,
Raste Ke Har Mor Par Hame,
Dhokha Ka Rasta Milega,

23.
साथ तो मैने तब दिया जब तुझे जरुरत थी,
तुने तो मुझे धोखा ऐसा दिया कि मेरी कुछ ना बची,Sath To Maine Tab Diya Jab Tujhe Jarurat Thi,
Tune To Mujhe Dokha Yesa Diya,
Ki Meri Kuch Na Bacho,




24.
धोखा मिली मुझे तो मैं जिना सिख गया,
आज अपनी आँखें खोल कर,
मैं चलना सिख गया,Dhokha Mili Mujhe To My Jina Sikh Gya,
Aaj Apni Aakhe Khol Kar,
My Chalna Sikh Gya,

25.
अपनी सफाई में चर्चे तो जमाना खूब देता हैं,
क्योंकि वो वफादार है,
हम तो कुछ ना कह कर भी आज,
के लिए एक धोखेबाज़ इंसान हैं,Apni Safhei Me Chche To Jamana Khub Deta Hai,
Kyoki Wo Wafadar Hai,
Ham To Kuch Na Kah Kar Bhi Aaj,
Ke Liye Ek Dhokhebaj Eansan Hai,

Tumne dhokha diya Shayari

26.
मुझे धोखा देकर आज तू बहुत खुश हैं,
ऐसा कर के आज तू बहुत खुश हैं,
तेरी खुशी तो हमशे थी ना,
मुझे आज तू इतना रूला कर भी खुश हैं,Mujhe Dhokha Dekar Aaj Tu Bahut Khus Hai,
Yesa Kar Ke Aaj Tu Bahut Khus Hai,
Teri Khusi To Hamse Thi Na,
Mujhe Aaj Tu Eatna Rula Kar Bhi Khus Hai,

•••••• Tune Dhoka Diya Shayari ••••••

27.
सुनी सुनाई बात पर भरोसा ना था,
धोखा खाने के बाद सारी बात समझ आ गयी,Suni Sunaei Bat Par Bharosa Na Tha,
Dokga Khane Ke Bat Sari Bat Samjh Aa Gyi,



28.
साथ रहना था हि नहीं तो तुमने हमसे नाता क्यों जोड़ा,
हमें धोखा देकर तुमने हमे कही का नहीं छोड़ा,Sath Rahna Tha Hi Nhi To Tumhe,
Hamse Nata Kyo Jora,
Hame Dokha Dekar Tumne Hame,
Kahi Ka Nhi Choora,
Tune Dhoka Diya Shayari
Tune Dhoka Diya Shayari

29.
धोखा खाकर भी हम ज़िन्दा हैं,
तेरे दर्द के साथ भी हम जिन्दा हैं,Dokha Khakar Bhi Ham Jianda Hai,
Tere Dard Ke Sath Bhi Ham Jianda Hai,

30.
धोखा तुमने ऐसा दिया मेरी ज़िन्दगी का हर मक़सद,
तुमने छीन लिया,Dokha Tumne Yesa Diya Meri Jiandgi,
Ka Har Maksad Tumne Chin Liya,

Tune dhoka diya Shayari Hindi

31.
दिल के दर्द को दिखाना बड़ा मुश्किल है,
धोखा खा कर बताना बड़ा मुश्किल है,Dil Ke Dard Ko Dikhana Bra Muskil Hai,
Dhokha Kha Kar Btana Bra Muskil Hai,




•••••• Tune Dhoka Diya Shayari ••••••

32.
ना तुमको कोई ऐसा मौका देते कि तुम धोखा देते,
अच्छा होता रसियों से बाध कर अपने गिरफ्त में रखते,Na Tumko Koei Yesa Muika Dete,
Ki Tum Dokha Dete,
Achha Hota Rasiyo Se Bath Kar Apne,
Girfat Me Rakhte,

33.
कहाँ कोई मिला ऐसा जिसपे दिल लुटा देते।
हर एक ने धोखा दिया किस किस को भूला देते।
अपने दर्द को दिल ही मे दवाये रखना।
बया करते तो महफिलो को रुला देते।Kaha Koei Mila Yesa Jispe Dil Luta Dete,
Har Ek Ne Thokha Diya Kis Kis Ko Bhula Dete,
Apne Dard Ko Dil Hi Me Dawaye Rakhna,
Bya Karte To Mahfho Ko Rula Dete

34.
क्यों अनजाने में हम अपना दिल गवा बैठे।
क्यों प्यार में हम धोखा खा बैठे।
उनसे हम अब क्या शिकवा करे कयोंकि गलती हमारी ही थी।
क्यों हम बेदिल इंसान से दिल लगा बैठे।Kyo Anjane Me Ham Apna Dil Gwa Bathe,
Kyo Payar Me Ham Thokha Kha Bathe,
Uanse Ham Ab Kya Sikwa Kre Kyoki Galti Hamari Hi Thi,
Kyo Ham Bedil Eansan Se Dil Laga Bathe,




👉 ये भी पढ़े

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *